Home STUDENT ON PROTEST अगस्त्यमुनि महाविद्यालय का बुरा हाल , न अध्यापक हैं न ही पड़ने...

अगस्त्यमुनि महाविद्यालय का बुरा हाल , न अध्यापक हैं न ही पड़ने के लिए पुस्तकें।

186
0

शम्भू प्रसाद

ऊखीमठ: उत्तराखड में शिक्षा का क्या हाल हैं इस रिपोर्ट में आपको ले चलते हैं उखीमठ के महाविद्यालय अगस्तमुनि, जहाँ 20 शिक्षकों व 12 हजार पुस्तकों की कमी को लेकर महाविद्यालय छात्र सघ द्वारा मंगलबार को सांकेतिक एक दिवसीय धरना प्रदर्शन किया गया।

छात्र संघ अध्यक्ष परमजीत रावत ने कहा कि महाविद्यालय में पुस्तके व शिक्षको की कमी से यह सांकेतिक एक दिवसीय धरना प्रदर्शन किया गया अध्यक्ष ने बताया कि महाविद्यालय में पुस्तके व शिक्षक की कमी से महाविद्यालय के समस्त छात्र छात्रों को पढ़ाई करने में बहुत कठनाइयों का सामना करना पड़ता है। जिससे समस्त छात्र छात्रों को पुस्तके व शिक्षको की कमी से पूरी पढ़ाई नही हो पाती है।

उन्होंने कहा कि अगर महाविद्यालय में पुस्तकें व शिक्षकों की कमी जल्द से जल्द दूर नही हुई तो आने वाले 15 तारीख से महाविद्यालय अगस्तमुनि के समस्त छात्र संघ क्रमिक अनशन पर बैठेंगे । पूर्व छात्र संघ अध्यक्ष व वर्तमान यू आर लब कुश भट्ट ने कहा कि महाविद्यालय में 12 हजार पुस्तकें व 20 शिक्षको की कमी है जिससे महाविद्यालय में समस्या का विषय बना हुआ है।

इस मौके पर छात्र संघ उपाध्यक्ष साक्षी नोटियाल, कोषाध्यक्ष चित्र मालिक, महासचिव नीरज नेगी, पूर्व छात्र संघ अध्यक्ष आलोक नेगी, अनिल मोहन, पूर्व महासचिव सौरभ गोस्वामी शुभम बिष्ट, मोहित समेत महाविद्यालय के समस्त छात्र छात्रएं मौजूद थे।

LEAVE A REPLY