Home KORONAVIRUS : COMPLETE LOCK DOWN IN DELHI कोरोना वायरस की वजह से दिल्ली में लॉकडाउन: क्या होता है लॉकडाउन?

कोरोना वायरस की वजह से दिल्ली में लॉकडाउन: क्या होता है लॉकडाउन?

150
0

राजसत्ता न्यूज़ ब्यूरो

सीधे शब्दों में लॉकडाउन’ का अर्थ है तालाबंदी. लॉकडाउन एक आपदा व्यवस्था है जो किसी आपदा या एपिडेमिक स्थिति के वक्त सरकारी तौर पर लागू की जाती है । लॉकडाउन में उस क्षेत्र के लोगों को घरों से बाहर निकलने की अनुमति नहीं होती है । उन्हे सिर्फ दवा और अनाज जैसी जरूरी चीजों के लिए ही बाहर आने की इजाजत मिलती है ।
हालांकि, इसके अपवाद भी हैं। मसलन, दवा, बैंक, अस्पताल और राशन-पानी की जरूरत के लिए घर से बाहर निकलने की छूट मिलती है। लॉकडाउन की स्थिति में किसी भी शख्स को जीवन जीने के लिए बुनियादी और आवश्यक चीजों के लिए ही बाहर निकलने की इजाजत होती है। लॉकडाउन में अगर किसी को राशन, दवा-पानी, सब्जी की जरूरत है तो वह बाहर जा सकता है या फिर बैंक-अस्पताल के काम के लिए अनुमति मिल सकती है।

दुनिया में सबसे पहला लॉक डाउन अमेरिका में 9/ 11 हमले के बाद किया गया था । यह एक एमरजेंसी व्यवस्था है । जिस तरह किसी संस्थान या फैक्ट्री को बंद किया जाता है और वहां तालाबंदी हो जाती है उसी तरह लॉक डाउन का अर्थ है कि आप अनावश्यक कार्य के लिए सड़कों पर ना निकलें। किसी तरह की परेशानी हो तो लोग संबंधित पुलिस थाने,जिला कलेक्टर,पुलिस अधीक्षक अथवा अन्य उच्च अधिकारी को फोन कर सकते हैं ।

दिल्ली में कोरोना वायरस के खतरे की चुनौतियों को देखते हुए राजधानी दिल्ली में कल से (सोमवार) लॉकडाउन का ऐलान किया है। लॉकडाउन के दौरान देश में कोई भी ट्रेन नहीं चलेगी। साथ ही मेट्रो का परिचालन भी सीमित होगा। दिल्ली में 23 मार्च को सुबह 8 बजे से 31 मार्च को आधी रात 12 बजे तक लॉकडाउन लागू रहेगा।

यूपी के 15 जिलों में 23 से 25 मार्च तक लॉकडाउन घोषित किया गया है, जिसमें नोएडा, गाजियाबाद, प्रयागराज, कानपुर, सहारनपुर, लखीमपुर, आजमगढ़, वाराणसी, लखनऊ, बरेली, मुरादाबाद बाराबंकी शामिल हैं।

LEAVE A REPLY