Home Uncategorized गंगोत्री धाम के लिए रवाना हुई मां गंगा की डोली

गंगोत्री धाम के लिए रवाना हुई मां गंगा की डोली

179
0

राजसत्ता न्यूज़ ब्यूरो

उत्तरकाशी: छह महीने के शीतकालीन प्रवास के बाद शनिवार को माँ गंगा की डोली मुखवा से सादे समारोह के बीच गंगोत्री के लिए रवाना हुई। यह पहल अवसर हैं जब माँ गंगा की डोली यात्रा में भक्तो की भीड़ नहीं थी । इस बार कोरोना के कारण गंगा डोली यात्रा में केवल 21 लोग ही शामिल हो सके।दोपहर 12: 30 बजे मंदिर समिति व सीमित तीर्थ पुरोहितों की उपस्थिति में गंगा की डोली को गंगोत्री धाम के लिए प्रस्थान किया । इस दौरान स्थानीय लोगों ने अपने घरों से ही धूप व पुष्प अर्पित कर मां गंगा को अश्रुपूर्ण नेत्रों के साथ विदा किया।

कल यानि रविवार को अक्षय तृतीया की पवन अवसर पर गंगोत्री धाम के कपाट दोपहर 12.35 बजे खोल दिए जाएंगे। रविवार की ही दोपहर में 12.41 बजे यमुनोत्री धाम के कपाट भी जनता के लिए खोल दिए जाएंगे। केदारनाथ धाम के कपाट पूर्व निर्धारित तिथि 29 अप्रैल को खुलेंगे, जबकि बदरीनाथ धाम के कपाट 15 मई को खुलेंगे ।

इससे पहले शनिवार सुबह से ही माँ गंगा की पूजा अर्चना शुरू हो गई थी । पंडितो व पुरोहितों ने मां गंगा की मूर्ति को सजाया, इसके बाद उन्हें डोली में बिठाया गया और दोपहर ठीक 12.30 बजे गंगा की उत्सव डोली को लेकर पुरोहित गंगोत्री की ओर रवाना हुई ।इसके बाद डोली मुखवा से मार्कंडेय मंदिर, देवी मंदिर होते हुए, जांगला पहुंची। इसके बाद गंगा की डोली भैरव घाटी स्थिति भैवर मंदिर पहुंची, आज रात माँ गंगा वही बिश्राम करेंगी। रविवार सुबह माता गंगा की डोली भैरव मंदिर से गंगोत्री के लिए प्रस्थान करेगी। जिसके बाद मंदिर में पूजा अर्चना की साथ ही शुभ मुहूर्त पर 12.35 बजे मां गंगा के कपाट श्रद्धालुओं के लिए खोल दिए जाएंगे।

LEAVE A REPLY