Home MISSION VILLAGE BY NAINITAL DM जिम्मेवारियों का अहसास कराता एक युवा अधिकारी , क्या होती हैं जिम्मेवारी...

जिम्मेवारियों का अहसास कराता एक युवा अधिकारी , क्या होती हैं जिम्मेवारी इस युवा अधिकारी से समझिये ?

218
0

नैनीताल 22 दिसम्बर : जिन युवा कंधो पर देश का भविष्य टिका हैं अगर वे इसे बखूबी से जानते हैं तो प्रदेश व देश के लिए इससे बढ़कर बड़ी बात क्या हो सकती हैं। जनपद के युवा जिलाधिकारी सविन बंसल उन्ही अधिकारियों में से एक हैं जो जनपद के विभिन्न दूरस्थ क्षेत्रों एवं ग्रामीण अंचलों का लगातार भ्रमण कर ग्रामीणों की समस्याएं सुन रहे हैं, और अधिकांश समस्याओं का मौके पर ही निस्तारण कर ग्राम वासियों को उनके ही क्षेत्र में पहुॅचकर योजनाओं का लाभ पहुॅचा रहे हैं। इस क्रम को आगे बढ़ाते हुए जिलाधिकारी बंसल ने रविवार को जिला मुख्यालय से लगे दुर्गम क्षेत्र अधौड़ा का भ्रमण कर बहुद्देश्यीय शिविर का आयोजन किया।

जिलाधिकारी सविन बंसल नेे विषम एवं जटिल भौगोलिक परिस्थितियों वाले पैदल मार्ग पर चारखेत से गैरखेत होते हुए अधौड़ा तक लगभग 8 किलो मीटर क्षेत्र का पैदल दौरा किया। भ्रमण के दौरान जिलाधिकारी बंसल ने सड़क, विद्युत, पेयजल, सिंचाई, मनरेगा आदि से संबंधित समस्याओं व कार्यों का स्थलीय निरीक्षण किया। जिलाधिकारी ने पैदल भ्रमण के दौरान ग्रामीणों से बातचीत कर उनकी समस्याएं भी सुनी।

गैरखेत व अधौड़ा पहुॅचने पर ग्रामीणों ने जिलाधिकारी का उत्साह पूर्वक फूल-मालाओं से स्वागत एवं अतिथ्य सत्कार करते हुए आभार व्यक्त किया। ग्रामीणों का कहना था कि क्षेत्र के लिए मोटर मार्ग न होने पर भी विषम एवं दुर्गम पैदल मार्ग से चलकर ग्रामीणों की समस्याएं एवं दुःख-दर्द जानने व उनका मौके पर ही निराकरण करने के लिए पहली बार कोई जिलाधिकारी इस क्षेत्र में पहुॅचा है।

जिलाधिकारी बंसल ने कहा कि सरकार द्वारा चलाई जा रही विभिन्न जनकल्याणकारी योजनाओं का लाभ प्रत्येक गरीब एवं पात्र व्यक्ति को मिलना चाहिए श्री बंसल ने कहा कि सुदूरवर्ती दुर्गम ग्रामीण क्षेत्रों एवं अंचलों में शिविर आयोजित करने का उद्देश्य है कि क्षेत्र वासियों की समस्याओं का निराकरण मौके पर ही हो सके और ग्रामवासियों को मुख्यालय के चक्कर न लगाने पड़े। इसके साथ ही भ्रमण का उद्देश्य ये भी जानना है कि ग्रामीण स्तर तक पहुंचने वाली सुविधाओं का लाभ ग्राम वासियों को मिल रहा है या नहीं और क्षेत्रीय कर्मचारी एवं अधिकारी अपने कार्य क्षेत्रों में कितनी मुस्तेदी से कार्य कर रहे हैं।

भ्रमण के दौरान जिलाधिकारी श्री बंसल ने ग्रामीणों की आजीविका के संसाधनों से रूबरू होकर ग्रामीणों के लिए सरकार द्वारा संचालितएनआरएलएम आदि योजनाओं का लाभ उठाने के लिए प्रेरित किया।
राजकीय प्राथमिक विद्यालय गैरखेत व रा.उ.मा.विद्यालय अधौड़ा में आयोजित कार्यक्रम में जिलाधिकारी श्री बंसल ने ग्रामीणों से कहा कि अपनी समस्याओं व परेशानियों के विषय में निःसंकोच अपनी शिकायत एवं बात लिखित एवं मौखिक रूप में सम्बन्धित विभागों से रखनी चाहिए। श्री बंसल ने कहा कि समस्याओं के निराकरण में हीलाहवाली करने वाले व्यक्तियों के खिलाफ सीधे तौर पर लिखित में शिकायत करें। हीलाहवाली करने वाले अधिकारियों के खिलाफ सख्ती से कार्यवाही अमल में लाई जायेगी।
शिविर में गैरखेत तथा अधोड़ा वासियों ने क्षेत्र की सबसे बड़ी समस्या नारायण नगर से गैरखेत तक सड़क निर्माण तथा बजून-अधोड़ा मोटर मार्ग के किमी 3 से अक्सू (गैरखेत) तक सड़क निर्माण कराने की मांग की। श्री बंसल ने मौके पर ही अधिशासी अभियंता लोनिवि डीएस कुटियाल को नारायण नगर-गैरखेत मोटर मार्ग निर्माण के लिए फाॅरेस्ट क्लियरेंस हेतु प्रस्ताव आॅनलाईन करने, क्षतिपूरक भूमि हेतु वन, राजस्व विभाग के अधिकारियों के साथ तत्कला संयुक्त सर्वे करने के साथ ही रोड निर्माण हेतु पिनौनिया मोटर मार्ग की तर्ज पर नारायण नगर-गैरखेत मोटर मार्ग निर्माण हेतु एससीएसपी मद में द्वितीय चरण का प्रस्ताव बनाकर शासन में भेजने के निर्देश दिए।

जिलाधिकारी ने बताया कि बजून-अधोड़ा मोटर मार्ग के किमी 3 से अक्सू (गैरखेत) तक सड़क निर्माण के लिए विशेष रूचि लेते हुए सभी प्रकार की समस्याओं का त्वरित गति से समाधान करा दिया गया है। सड़क निर्माण के लिए पीएमजीएसवाई तथा वन विभाग के अधिकारियों को एकसाथ काम करने के निर्देश जारी किए गए थे, जिसके क्रम में पीएमजीएसवाई द्वारा रोड कटान कार्य व वन निगम द्वारा पेड़ों का कटान कार्य शुरू किया जा रहा है। श्री बंसल ने पीएमजीएसवाई के अधिशासी अभियंता को रोड कटिंग के दौरान क्षत्रिग्रस्त होने वाली पेयजल लाईन सहित अन्य सभी नुकसानों की पूर्ति भी समय से करने के निर्देश दिए। श्री बंसल ने बताया कि जनपद के सभी रोड निर्माण कार्यों में गति लाने हेतु वह स्वयं पैनी नज़र बनाए हुए हैं।

राजकीय प्राथमिक विद्यालय गैरखेत व रा.उ.मा.विद्यालय अधौड़ा में बेटी बचाओं-बेटी पढ़ाओं, राष्ट्रीय पोषण मिशन के तहत विद्यार्थियों को डिक्सनरी, एटलस, रजिस्टर, स्वच्छता किट आदि वितरित किये गये व मेधावी बच्चों को सम्मानित किया गया।

शिविर में बिजली, पानी, सड़क, आवास, राशन कार्ड, मोबाईल नेटवर्क, क्षतिग्रस्त गूल की मरम्मत, सिंचाई आदि से सम्बन्धित 49 शिकायतें दर्ज की गयी, जिसमें से अधिकांश समस्याओं का निराकरण मौके पर ही किया गया। शिविर में प्रथम बार शिकायतकर्ताओं को अपने आवेदन पत्र एवं शिकायत की ऑनलाइन मोनीटरिंग हेतु संतुष्टि पोर्टल की पर्ची जारी की गइ। अब शिकायत कर्ता अपने आवेदन की स्थिति संतुष्टि पोर्टल पर ऑनलाइन चेक कर सकेंगे।

LEAVE A REPLY