Home Uncategorized डबल इंजन सरकार में कमाल। अमनमणि के बाद अब बिना परमिशन के...

डबल इंजन सरकार में कमाल। अमनमणि के बाद अब बिना परमिशन के बस पहुंची बागेश्वर

307
0

राजसत्ता न्यूज ब्यूरो

बागेश्वर । उत्तराखंड रोडवेज की एक बस देहरादून से पांच जिले पार करते हुए 34 लोगों को लेकर बागेश्वर तक पहुंच जाती है, और किसी को इसकी जानकारी नहीं होती। हैरत की बात ये है कि इस बस ने कई पुलिस नाके पार किए ,बस में बैठे लोगों की रास्ते में किसी पुलिस नाके पर जांच भी नहीं की गई। बस में सवार सभी लोग बिना पास के बागेश्वर पहुंच गए। ये मामला उत्तराखंड में चर्चा का विषय बना हुआ है। जबकि आम आदमी पास लेने के लिए दर दर भटक रहा है। ऐसा नहीं है कि ये बस बिना किसी संगरक्षण के वहां पहुंची हो। आखिर कौन है वह शख्स जिसकी पैरवी पर ये बस बागेश्वर पहुंच गई। तो क्या इसे भी किसी अमनमणि वाले अधिकारी या नेता का संरक्षण प्राप्त है?

रोडवेज की बस का नंबर यूके 07P 3166 है। बस में 34 लोग सवार थे, और बिना किसी के पास ऐसे में ये बस देहरादून से चली है पांच जिलों को पार करने के बाद बागेश्वर पहुंच गई।

सवाल ये है कि आखिर सरकारी बस अवैध तरीके से देहरादून से 34 सवारियां लेकर कैसे बागेश्वर पहुंच गई। जब बस बागेश्वर के बिनौला पहुंची तो अवैध बस की जानकारी वहां के एसडीएम राकेश तिवारी को मिली। बस में आठ महिलाएं, आठ बच्चों के साथ इन लोगों को अब क्वारंटीन कर दिया गया है। खैर उत्तराखंड सरकार से तो अब आशा ही क्या की जा सकती है, जब सब कुछ सरकार की नाक के नीचे हो रहा है।

आपको याद होगा कि कुछ दिन पहले उत्तराखंड में उत्तराखंड के एक विधायक अमनमणि का मामला सामने आया था। उनका और उनके 11 साथियों का बद्रीनाथ यात्रा का पास बना दिया गया था जबकि वहां किसी के भी जाने की अनुमति नहीं थी।

अब अमनमणि केस के बाद बागेश्वर पहुंची इस रोडवेज बस की यात्रा का मामला चर्चा का विषय बन गया है। देखना होगा कि इस मामले की जांच की जाती है नहीं। और अगर की जाती है तो कौन दोषी पाया जाता है और क्या कार्रवाई होती है।

LEAVE A REPLY