Home Tungnath portals closed for winter तृतीय केदार भगवान तुंगनाथ के कपाट बंद, अब मक्कूमठ में होगी पूजा...

तृतीय केदार भगवान तुंगनाथ के कपाट बंद, अब मक्कूमठ में होगी पूजा अर्चना

245
0

शम्भू प्रसाद

रुद्रप्रयाग: तृतीय केदार भगवान् तुंगनाथ के कपाट शीतकाल के लिए 11.30 बजे बंद कर दिए गए। सुबह 8 बजे से मंदिर में विशेष पूजा शुरूहो गई थी । सबसे पहले भगवान तुंगनाथ का शृंगार कर उन्हें भोग लगाया गया। पूजा अर्चना, श्रृंगार, मंदिर में भोग लगने के पश्चात स्वयंभू शिवलिंग को समाधि दी गई। इसके पश्चात तृतीय केदार तुंगनाथ के कपाट शीतकाल के लिए बंद किए गए। आज बाबा तुंगनाथ की चल विग्रह उत्सव डोली रात्रि प्रवास के लिए पहले पड़ाव पर चोपता पहुंचेगी।

मंदिर के प्रबंधक प्रकाश पुरोहित ने बताया कि 10 मई से शुरू हुई तृतीय केदार की यात्रा में अभी तक 16 हजार से अधिक श्रद्धालु पहुंच चुके हैं। भगवान केदारनाथ धाम के कपाट बंद होने के बाद बीते चार दिनों से श्रद्धालुओं की संख्या में कुछ इजाफा हुआ था। उन्होंने बताया आज बाबा तुंगनाथ के कपाट बंद करने की सभी तैयारियां जोरों पर की जा चुकी थी। इस दौरान मंदिर को करीब दो कुंतल फूलों से सजाया गया।

सात नवंबर को डोली द्वितीय पड़ाव भनकुन गुफा में रात्रि प्रवास के बाद आठ नवंबर को अपने शीतकालीन गद्दी स्थल मार्केण्डेय मंदिर मक्कूमठ में विराजमान होगी। आठ नवंबर को डोली अपने शीतकालीन धाम में छह माह के लिए विराजमान होगी।मंदिर की साज-सज्जा के साथ अन्य तैयारियां की जा रही हैं और अब देश भर के श्रद्धालु बाबा के दर्शन 6 महीने के लिए मक्कूमठ में कर पाएंगे ।

LEAVE A REPLY