Home 2019 त्रिशूल फतह करने में कामयाब रहे – एस.डी.आर.एफ जवान राजेन्द्र नाथ

त्रिशूल फतह करने में कामयाब रहे – एस.डी.आर.एफ जवान राजेन्द्र नाथ

282
0

एस.डी.आर.एफ जवान राजेन्द्र नाथ द्वारा किया “माउण्ट त्रिशूल पर्वत” (7120 मीटर) का सफलतापूर्वक आरोहण

देहरादून : इंडियन माउंटेन फेडरेशन (आई.एम.एफ) द्वारा संचालित पर्वतारोहण अभियान में चयनित सदस्य एस.डी.आर.एफ जवान राजेन्द्र नाथ का अभियान सफर, दिनांक 24.08.19 को सेनानायक एस.डी.आर.एफ महोदया, सुश्री तृप्ति भट्ट, द्वारा उत्तराखंड पुलिस के प्रतीक चिन्ह प्रदान कर व दिनाँक 28.08.19 को आई.एम.एफ दिल्ली से फ्लैग ऑफ सेरेमनी के पश्चात प्रारम्भ हुआ, जिसके पश्चात अभियान इस प्रकार है-

दिनाँक 29.08.19 – दिल्ली से देहरादून
दिनाँक 30.08.19 – देहरादून से सुतोल
दिनाँक 01.09.19 – सुतोल से लताकोपरि
दिनाँक 04.09.19 – लताकोपरि से चंदनिया घाट
दिनाँक 08.09.19 – चंदनिया घाट से होम कुंड (बेस कैम्प)
दिनाँक 12.09.19 – होम कुंड से कैम्प १
दिनाँक 13.09.19 – कैम्प १ से कैम्प २
दिनाँक 14.09.19 – कैम्प २ से समिट कैम्प
दिनाँक 15.09.19 – समिट कैम्प से पीक समिट
दिनाँक 16.09.19 – सुबह 7 बजे पीक समिट माउण्ट त्रिशूल 7120 मीटर

एस.डी.आर.एफ जवान राजेन्द्र नाथ उत्तराखंड के प्रथम पुलिसकर्मी बने जिनके द्वारा माउण्ट त्रिशूल की पीक समिट हासिल की गई। माउण्ट त्रिशूल अत्यधिक चुनौतीपूर्ण व पर्वतारोहियों के बीच लोकप्रिय माने जाने वाली पीक है।
माउण्ट एवरेस्ट अभियान (8848 मीटर) से पूर्ण माउण्ट त्रिशूल (7120 मीटर) को पर्वतारोहियों द्वारा प्री- एवरेस्ट के रूप में किया जाता है।

जवान राजेन्द्र नाथ के द्वारा पूर्व में वर्ष 2018 में “चंद्रभागा -13” (6264 मीटर) , वर्ष 2019 में “द्रौपदी का डांडा” (5670 मीटर) का सफल आरोहण किया है। पूर्व में उत्तराखंड पुलिस द्वारा आरोहित मिशन “सतोपंथ अभियान” के टीम सदस्य के रूप में भी राजेन्द्र नाथ का चयन हुआ था।

LEAVE A REPLY