Home ACHARYA BAL KRISHANA THREATENING STUDENTS फीस विवाद: आचार्य बालकृष्ण आयुष छात्रों को कैसे धमका रहे हैं, देखिए...

फीस विवाद: आचार्य बालकृष्ण आयुष छात्रों को कैसे धमका रहे हैं, देखिए वीडियो

397
0

कोर्ट जाना हैं तो जाओ , मेरा एक बच्चे के ऊपर सवा तीन लाख फीस आती हैं , में कोर्ट के थ्रो तुमसे सवा तीन लाख फीस लूंगाः

53 दिनों के बाद जैसे ही छात्र पतंजलि योगपीठ लौटे तो आचार्य बालकृष्ण सुनाने लगे खरी खरी

हरिद्वार : हरिद्वार से आज एक सनसनी फैला देने वाली वीडियो सामने आई है , जिसमें हरिद्वार स्थित पतंजलि योगपीठ में आचार्य बालकृष्ण आयुष कॉलेज में पढ़ रहे छात्रों को कॉलेज से निकालने की धमकी दे रहे हैं , तथा उनसे कोर्ट के थ्रो सवा तीन लाख फीस उगाही की बात कर रहे हैं।

 

 

 

 

 

 

 

उत्तराखंड सरकार के द्वारा आदेश देने के बावजूद भी प्राइवेट आयुष कॉलेज अपनी मनमानी पर अड़े हुए हैं । जिसका जीता जगता उद्धरण हरिद्वार स्थित पतंजलि योगपीठ कॉलेज हैं। उत्तराखंड के निजी कॉलेज संस्थान एक बार फिर से छात्रों को आंदोलन करने पर मजबूर कर रहे हैं । ऐसा ही कुछ कल हरिद्वार के पतंजलि योगपीठ में हुआ अपना आंदोलन स्थगित करने के बाद जब छात्र पतंजलि योगपीठ में गए तो आंदोलन कर रहे छात्र-छात्राओं को आचार्य बालकिशन खरी खोटी सुनाने लगे व धमकाने भी लग गए । पूरे घटनाक्रम का वीडियो आज से वाइरल हो रहा हैं
गौरतलब हैं कि उत्तराखंड में आयुर्वेद विद्यार्थियों का आंदोलन 53 दिन से चल रहा था।
आंदोलन और अनशन के बाद आयुष विभाग की तरफ से आदेश जारी हुआ, जिसको लेकर छात्र लगातार आंदोलन चला रहे थे .। सीएम त्रिवेंद्र सिंह के दखल के बाद आयुष सचिव की तरफ से जारी हुए आदेश से स्टूडेंट्स खुश हैं. प्रशासनिक आदेश के मुताबिक स्टूडेंट्स को उम्मीद है कि इस बार कॉलेजों को फीस वापस करनी होगी, क्योंकि सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत खुद मामले को लेकर गंभीर हैं. आयुष सचिव के आदेश में आयुर्वेद यूनिवर्सिटी रजिस्ट्रार को कहा गया है कि एक महीने (22 दिसंबर) में सभी 13 प्राइवेट कॉलेजों पर एक्शन लें और हाईकोर्ट के आदेशों का पालन करवाएं।

सरकारी आदेश में साफ कहा गया है कि अगर कॉलेजों ने हाईकोर्ट का आदेश नहीं माना तो उनके खिलाफ कड़ी कार्रवाई होगी। अपने आदेश में सचिव ने इस बात का भी जिक्र किया कि पहले भी कॉलेजों को फीस लौटाने को कहा गया, लेकिन किसी ने बात नहीं सुनी. इसका नतीजा ये हुआ कि आयुर्वेद कॉलेज के स्टूडेंट्स ने आंदोलन करना पड़ा।आदेश के बाद ये छात्र वापस पतंजलि पहुंचे तो देखिये कैसे आचार्य बालकिशन अपने छात्रों को खरी खोटी सुना रहे हैं आचार्य बालकिशन ।

LEAVE A REPLY