Home JUSTICE K R SHRIRAM ON CHARDHAM YATRA मुंबई हाई कोर्ट के जज ने खोली चार धाम यात्रा की पोल...

मुंबई हाई कोर्ट के जज ने खोली चार धाम यात्रा की पोल : उत्‍तराखंड हाई कोर्ट के चीफ जस्टिस को पत्र लिख कही ये बात

315
0

नैनीताल: मुंबई हाई कोर्ट के जस्टिस के आर श्रीराम ने उत्‍तराखंड हाई कोर्ट के चीफ जस्टिस को एक पत्र लिखा हैं जिसमें उन्होंने अपनी हाल ही मैं की गई चारधाम यात्रा का बर्णन किया हैं । जस्टिस श्रीराम ने अपने पत्र में पहले तो उत्‍तराखंड की खूबसूरती का जिक्र करते हुए अपनी चार धाम यात्रा के बारे में बताया है। उन्‍होंने लिखा है कि उत्‍तराखंड सरकार चार धाम यात्रा को लेकर खूब प्रचार प्रसार कर रही है। बड़ी तादाद में श्रद्धालु चार धाम यात्रा के लिए आ रहे हैं , बावजूद इसके वहां की यात्रा करने में श्रद्धालुओं को तमाम दिक्‍कतों से गुजरना पड़ता है।

जस्टिस श्रीराम के इस पत्र को बतौर याचिका स्‍वीकार करते हुए सरकार से चार सप्‍ताह में जवाब पेश करने को कहा है। गौरतलब हैं कि पिछले चार धाम यात्रा पड़ाव से कई शिकायतें आ रही थी , मसलन यात्रियों से सामन के ज्यादा पैसे की वसूली , पैट्रॉल का न मिलना , एटीएम का काम न करना , इत्यादि ।

बताया जा रहा हैं कि जस्टिस के आर श्रीराम कुछ दिनों पहले अपने परिवार के साथ चार धाम यात्रा पर उत्‍तराखंड आए हुए थे। उत्तराखंड की खूबसूरती तो उनको भा गई लेकिन यात्रा के दौरान सुविधाओं का नितांत अभाव उनको अखर गया। यात्रा के दौरान उन्‍हें श्रद्धालुओं की पीड़ा समझ में आई। अपने पत्र में उन्होंने पैदल यात्रा के दौरान खाने, पीने, ठहरने और यहां तक की मेडिकल सुविधाओं का भी नितांत अभाव के जिक्र किया हैं।

अपनी चार धाम यात्रा के बाद उन्‍होंने उत्‍तराखंड हाई कोर्ट के चीफ जस्टिस को पत्र लिखकर अवगत कराया है। वहीं चीफ जस्टिस ने इस पत्र को जनहित याचिका में तब्‍दील कर प्रदेश सरकार से चार सप्‍ताह में जवाब पेश करने को कहा है।

LEAVE A REPLY