Home Uncategorized यात्रियों को खुलेआम लूट रहे हैं उत्तराखंड परिवाहन निगम द्वारा अनुबंधित ढाबे

यात्रियों को खुलेआम लूट रहे हैं उत्तराखंड परिवाहन निगम द्वारा अनुबंधित ढाबे

291
0

सराईखेत /रामनगर /कोटद्वार : उत्तराखंड के पहाड़ो की सरीफ जनता को किस प्रकार से लूट रहे हैं यात्रा मार्ग में अनुबंधित ढाबे वाले , इसका उदाहरण खुद आज मैंने देखा . सिलसिलेवार जिक्र कर रहा हूँ . सुबह लगभग 6 बजकर 24 मिनट पर लखरकोट से उत्तराखंड परिवहन निगम की बस संख्या UK 07 PA 2914 में पत्नी सहित बस में चढ़ा . लगभग एक बजकर 30 मिनट पर बस गढ़गंगा से कुछ किलोमीटर आगे नई शिव प्लाजा टूरिस्ट पर रुकी . गौरतलब हैं कि पहले इसका नाम मधुबन प्लाजा था . कई लोगो की साथ यहाँ पर मार पिटाई भी हुई हैं ऐसे मैंने सुना था . जिसके बाद देहरादून में बैठे इनके आकाओं ने इन्हे ढाबे का नाम बदलकर न्यू शिव प्लाजा टूरिस्ट करने का सुझाव दिया होगा .

इस संबाददाता ने काउंटर पर बैठे व्यक्ति से कूपन खरीदने चाहे लेकिन काउंटर पर बैठा मोटा काला व्यक्ति बोला आप अंदर -कुर्सिओं पर बैठ कर आर्डर कर लो . लिहाजा हम कुर्सियों पर बैठ गए . आर्डर दिया एक दाल , लौकी की सब्जी एवं रोटी का , बहुत भूख भी लग रही थी सोचा खाना अच्छा मिलेगा , लेकिन खाना परोसा गया तो , बासी रोटी , पता नहीं कब की मसूर की दाल , और ठंडी लौकी की सब्जी सभी पता नहीं कब की बासी , खैर जैसे भी हो खाया , कुछ छोड़ दिया , अब बारी थी बिल की, सो में काउंटर पर बैठे काले व्यक्ति के पास गया तो उसने एक खाली सफ़ेद कागज पर बिल थमा दिया 240 रुपये का . सोचा दू या ना दू , खैर 240 रुपये देने के बाद में वापस बस में आया तो ड्राइवर से बात की , ड्राइवर ने बताया भैया हम क्या करे , अगर नहीं रुकते तो 400 या 4000 रुपये काटते हैं निगम वाले .हमें तो रुकना ही पड़ता हैं . एक और दूसरी बात , जो महिलायें बाथरूम जाती हैं उनसे प्रति महिला 10 रुपये भी लेता हैं , 5 रुपये तो शायद इनके कॉन्ट्रैक्ट में भी होगा लेकिन 10 तो कभी नहीं .
यही हालात कोटद्वार वाले मार्ग पर भी हैं , रास्ते में जहाँ भी उत्तराखंड परिवाहन निगम की बस रूकती हैं , कमोवेश यही हालात हैं . इस आशा से कि उत्तराखंड परिवाहन निगम के अधिकारी इस ओर ध्यान देंगे .

LEAVE A REPLY