Home CONFERRED BY STATE EDUCATION MINSTER PANDEY रुद्रप्रयाग : उत्कृष्ट सेवाओं के लिए रुद्रप्रयाग के 100 शिक्षक सम्मानित

रुद्रप्रयाग : उत्कृष्ट सेवाओं के लिए रुद्रप्रयाग के 100 शिक्षक सम्मानित

250
0

दिलबर सिंह बिष्ट

रुद्रप्रयाग : रविवार को अगस्त्यमुनि राजकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय के सेमिनार हॉल में उत्कृष्ट शिक्षक सम्मान समारोह कार्यक्रम का आयोजन किया गया ,जिसमें जनपद के बेसिक व माध्यमिक शिक्षा के कुल 100 उत्कृष्ट शिक्षकों को शिक्षा मंत्री अरविंद पांडेय ने स्मृति चिन्ह व प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया । सम्मान पाने वाले शिक्षकों में विकासखंड जखोली के 32, अगस्त्यमुनि के 50 व ऊखीमठ के 18 शिक्षकों को सम्मानित किया गया।

सम्मान समारोह को संबोधित करते हुए शिक्षा मंत्री ने कहा कि शिक्षक देवतुल्य है, व शिक्षक होना ही स्वयं में सबसे बड़ा सम्मान है।उन्होंने कहा कि वर्तमान में अधिकांश उच्च पदों पर कार्यरत मंत्री, अधिकारी व अन्य कार्मिको ने सरकारी विद्यालयों से ही शिक्षा ग्रहण की है।

शिक्षा मंत्री ने बताया कि बोर्ड परीक्षाओं तक शिक्षकों को किसी प्रकार का प्रशिक्षण नही दिया जाएगा। सरकार व शिक्षा विभाग के तमाम अधिकारी शिक्षा व्यवस्था को सुधारने के लिये प्रयासरत है , व बेहतर परिणाम भी सामने आए है। उन्होंने शिक्षकों को दाई की संज्ञा देते हुय कहा कि शिक्षक की भूमिका दाई की तरह होती है वे अपने विद्यार्थी के भविष्य से भली भांति परिचित होते है।

मंत्री ने कही कि सरकार ने प्राइवेट स्कूलों की मनमानी पर रोक लगाई है, साथ ही सरकारी स्कूलों में राष्ट्रीय शैक्षिक अनुसंधन और प्रशिक्षण परिषद् (एन.सी.ई.आर.टी.) के करिकुलम को लागू किया है, जिससे सरकारी स्कूलों में भी प्राइवेट स्कूलों के अनुसार शिक्षा मिले। शिक्षा विभाग की छवि उद्योग विभाग की बन गई थी जिसमें बदलाव आया है।

कार्यक्रम में भाजपा जिलाध्यक्ष दिनेश उनियाल, जिला पंचायत अध्यक्ष अमर देई शाह, विधायक रुद्रप्रयाग भरत सिंह चौधरी, केदारनाथ मनोज रावत, बाल संरक्षण आयोग के सदस्य वाचस्पति सेमवाल, उपजिलाधिकारी सदर वृजेश तिवारी, सी ओ दीपक सिंह, प्राचार्य डॉ आशा देवी, मुख्य शिक्षा अधिकारी चित्रानंद काला, माध्यमिक लक्ष्मन सिंह दानू, बेसिक विद्या शंकर चतुर्वेदी सहित शिक्षक व अन्य अधिकारी उपस्थित थे।

LEAVE A REPLY