Home RUDRAPARYAG ; Veterinary department fixed target of 20 thousand IVF रुद्रप्रयाग : पशुपालन विभाग ने तय किया 20 हजार कृत्रिम गर्भाधान का...

रुद्रप्रयाग : पशुपालन विभाग ने तय किया 20 हजार कृत्रिम गर्भाधान का लक्ष्य

162
0

दिलबर सिंह बिष्ट
रुद्रप्रयाग : बृहस्पतिवार को जिला सभागार में जिलाधिकारी मंगेश घिल्डियाल की अध्यक्षता में पशु चिकित्सकों, पशुधन प्रसार अधिकारी व तकनिशियनो के साथ राष्ट्रीय कृत्रिम गर्भाधान कार्यक्रम की समीक्षा बैठक ली गई। पशुपालन विभाग के लिए राष्ट्रीय कृत्रिम गर्भाधान कार्यक्रम के तहत 20 हजार दुधारू पशुओं में कृत्रिम गर्भाधान का लक्ष्य परिपूर्ण हेतु 15 मार्च तक निर्धारित किया गया हैं। अभी तक तक मात्र 2248 दुधारू पशुओं का कृत्रिम गर्भाधान विभागीय पशु चिकित्सको,पशु धन प्रसार अधिकारी व कृत्रिम गर्भाधान तकनिशियन द्वारा किया गया है।

निर्धारित लक्ष्य को पूरा न कर पाने पर नाराजगी जाहिर करते हुए जिलाधिकारी ने मुख्य पशु चिकित्साधिकारी को 100 से न्यून कृत्रिम गर्भाधान वाले चिकित्सकों, पशुधन प्रसार अधिकारी व तकनीशियनों को चेतावनी जारी करने के निर्देश दिए हैं । उन्होंने कहा कि आगामी बैठक तक प्रगति सकारात्मक न होने पर संबंधितों को प्रतिकूल प्रविष्टि जारी की जाएगी।

इस अवसर पर जिलाधिकारी ने समस्त अधिकारिओं को टारगेट फिक्स करने के निर्देश दिये, जिससे ससमय लक्ष्य की प्राप्ति की जा सके। राष्ट्रीय कृत्रिम गर्भाधान का लक्ष्य प्राप्त करने हेतु समस्त क्षेत्रों में संबंधित चिकित्सकों व अन्य स्टॉफ के मोबाइल नम्बर का व्यापक प्रचार प्रसार पेम्पलेट के माध्यम से करने, क्षेत्रीय पशुपालकों का व्हाट्सएप ग्रुप बनाने जिससे पता चल सके कब किस पशु को गर्भाधान का इंजेक्शन लगाना है, कार्मिको को अपने प्रतिदिन का रूट चार्ट सीवीओ को प्रेषित करने, किसी भी कार्मिक द्वारा पशुपालको के फोन कॉल को नजर अंदाज करने पर कठोर कार्रवाई के निर्देश दिये।
साथ ही डेरी विभाग को 19 गाँव मे कार्यरत समितियों व सचिव के माध्यम से प्रत्येक गांव में प्रतिमाह ब्याने वाले समस्त पशुओं की डिटेल देने के भी निर्देश दिये। इस अवसर पर पशु चिकित्सक डॉ डी ऐस राणा, डॉ रवि , डॉ दीप मणि गुप्ता सहित अन्य लोग मौजूद थे।

LEAVE A REPLY