Home Kedarnath Shrines श्राइन बोर्ड के विरोध में ऊखीमठ के पुरोहित समाज का धरना प्रदर्शन।

श्राइन बोर्ड के विरोध में ऊखीमठ के पुरोहित समाज का धरना प्रदर्शन।

107
0

शम्भू प्रसाद
उखीमठ : ऊखीमठ ब्लॉक केतीर्थ पुरोहितो, हकक्कूक धरियो व केदारघाटी की जनता ने बुधबार को श्राइन बोर्ड के विरोध में ऊखीमठ मुख्य बाजार से तहसील परिसर तक सरकार के खिलाफ व उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत, ओर सतपाल महाराज के मुरादाबाद का नारा लगने के साथ एक दिन का धरना प्रदर्शन किया। वही केंद्र सरकार राज्य सरकार ने जो श्राइन बोर्ड लगाने का फैसला किया उसके खिलाफ ऊखीमठ की जनता व पुरोहित समाज ने शक्त विरोध किया है। और उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत व सतपाल महाराज का पुतला दहन किया।

केदार सभा के अध्यक्ष विनोद सुक्ला ने बताया कि सरकार ने जो श्राइन बोर्ड बनाने का फैसला किया है उस फैसला के समस्त केदारघाटी तीर्थ पुरोहित व हकक्कूक इसका विरोध करती है। उन्होंने कहा कि सरकार को अपना फैसला बदलना होगा, वरना केदार घाटी की जनता सरकार के प्रति सख्त कार्यवाही करेगी। चार धाम तीर्थ पुरोहित व हकक्कूकधारी महापंचायत अध्यक्ष कृष्णकांत कोटियाल ने कहा कि पूरे उत्तराखंड व केदारघाटी की जनता श्राइन बोर्ड के विरोध है। उन्होंने कि सरकार के फैसले से समस्त हकक्कूक धरियो, तीर्थ पुरोहितो व केदारघाटी की जनता का हक छिन रहे हैं ।

केदारनाथ विधायक मनोज रावत ने कहा कि सरकार जो श्राइन बोर्ड उत्तराखंड व केदार घाटी ने लागू करने का फैसला किया है, उसका जनता केदार घाटी की जनता इसका विरोध करती है, उन्होंने कहा कि ये विरोध तब तक चलते रहेगा जब तक ये फैसला बदल न जाय। वही जिला पंचायत के उपाध्यक्ष सुमन तिवारी ने भी सरकार के फैसले का विरोध किया और जनता को बताया कि सभी को एक साथ मिलकर इसका विरोध करना है जिससे ये एक्ट लागू न हो। ब्लॉक प्रमुख स्वेता पाड़े ने कहा कि सरकार ने जो श्राइन बोर्ड एक्ट लागू करने की घोषणा की है व गलत है जिसका जनता विरोध करती है। कालीमठ वार्ड की क्षेत्र पंचायत सदस्य सोमेस्वरी भट्ट ने कहा कि हम देवभूमि के लोग है और बाबा केदारनाथ, तुंगनाथ, मदमहेश्वर घाटी के लोग हमें इस प्रकार के एक्ट को अपने घाटी में नही लाना चाहिए और हम सरकार के प्रति शक्त विरोध करते है।

इस मौके केदार सभा के कोषाध्यक्ष विष्णुकांत कुर्वचलि, सदस्य अरुण शुक्ला, सगठन के महापंचायत श्याम पंचपुरी, ललिता पुष्पाण, प्रियंका शुक्ला, प्रधान रुद्रपुर मंजू देवी, रेखा देवी, महिला मंगल दल अध्यक्ष किमाणा रजनी देवी, महिला मंगल दल अध्यक्ष फाटा मधुबाला, अध्यक्ष नागजई सविता देवी, कुसुम देवी, हकक्कूक धारी कोषाध्यक्ष लक्ष्मी नारायण, सगीता देवी, कैलाश पुष्पाण, केशव तिवारी, गणेश तिवारी, कुबेर पोस्ती, माधव कर्नाटकी, सुरेंद्र सुक्ला, नोरोतम रणजीत रावत, पवन राणा, विनोद रावत, भरत राणा, नवदीप सिंह नेगी, समेत तीर्थ पुरोहित हकक्कूक धारी, व केदार घाटी की जनता ओर विभिन्न क्षेत्रों की महिला मंगलदल की सदस्य मौजूद थी,

LEAVE A REPLY