Home Uncategorized सज गया नारायण का दरबार, कोरोना ने बढ़ाई नर और नारायण के...

सज गया नारायण का दरबार, कोरोना ने बढ़ाई नर और नारायण के बीच की दूरियां

361
0


सुभाष पिमोली

थराली/जोशीमठ।उत्तराखंड में तीन धामों के कपाट खुलने के बाद लॉकडाउन के बीच अब कल शुक्रवार यानि 15 मई को भगवान श्री बद्रीनाथ धाम के कपाट खुलने जा रहे हैं। कपाट खुलने से पूर्व धाम में पूरी ब्यवस्थाओ को चाक चौबंद कर दिया गया है । भगवान बद्रीनाथ के मंदिर को 10 कुंतल फूलों से सजाया गया है । जहां मन्दिर के कपाट खुलने के दौरान पूर्व में हज़ारों श्रद्धालू इस पल के साक्षी होते थे, इस बार कोरोना महामारी के कारण धाम में इस बार कपाट खुलने के दौरान मंदिर में मुख्य पुजारी सहित कुल 28 लोगों को प्रशासन द्वारा धाम में जाने अनुमति दी गयी । वहीं मंदिर के कपाट खुलने के समय किसी भी श्रद्धा लू को भगवान बद्रीनाथ के दर्शन की अनुमति नहीं दी गयी है ।


जिला मजिस्ट्रेट स्वाति एस भदौरिया ने इसकी पुष्टि की है। साथ ही उन्होंने बताया कि धाम के कपाट 15 मई को विधि-विधान और मंत्रोच्चारण के साथ सुबह ब्राह्ममूर्त में 4 बजकर 30 मिनट पर खोल दिए जाएंगे। इसको लेकर प्रशासन और मंदिर समिति की ओर से तैयारियां पूरी कर दी गयी है । आज पांडुकेश्वर से भगवान उद्वव जी , कुबेर जी , रावल जी व आदिगुरु शंकराचार्य जी की गद्दी भी बद्रीनाथ धाम पहुच चुकी है ।
आपको बता दें कि भगवान बद्री विशाल के कपाट खुलने की तारीख को भी इस बार महाराज टिहरी के द्वारा बदला गया। पहले कपाट खुलने की तारीख 30 अप्रैल की तय की गई थी, जिसे बाद में बदलकर 15 मई कर दिया गया। कल सुबह 4 बजकर 30 मिनट पर भू बैकुण्ठ बद्रीविशाल के कपाट पूरे विधि विधान व वैदिक मंत्रोच्चार के साथ खोल दिये जायँगे ।

LEAVE A REPLY