Home Compulsory retirement of CBIC officers 22 भ्रष्टाचारी जबरन रिटायर: केंद्र सरकार ने जारी की तीसरी लिस्ट

22 भ्रष्टाचारी जबरन रिटायर: केंद्र सरकार ने जारी की तीसरी लिस्ट

508
0

ना खाऊंगा न खाने दूंगा : केंद्रीय अप्रत्यक्ष कर और सीमा शुल्क बोर्ड के 22 भ्रष्टाचारी जबरन रिटायर

नई दिल्ली : केंद्र सरकार ने केंद्रीय अप्रत्यक्ष कर और सीमा शुल्क बोर्ड से सोमवार को 22 वरिष्ठ अधिकारियों को भ्रष्टाचार और अन्य आरोपों के चलते जबरन रिटायर कर दिया हैं । इन अधिकारियों पर जनहित में मौलिक नियम 56 (जे) के तहत रिटायर किया गया है। एएनआई के अनुसार, ये अधिकारी अधीक्षक/एओ रैंक के हैं।

ANI

@ANI
Central Board of Indirect Taxes & Customs (CBIC) has compulsorily retired yet another 22 senior officers of the rank of Superintendent/AO under Fundamental Rule 56 (J) in the public interest, due to corruption and other charges.

सरकार ने इनसे पहले केन्द्रीय अप्रत्यक्ष कर एवं सीमा शुल्क बोर्ड के 15 वरिष्ठ अधिकारियों को जबरन रिटायर किया था। ये अधिकारी सीबीआईसी के प्रधान आयुक्त, आयुक्त, और उपायुक्त के रैंक के थे। इनमें 1985 बैच के आईआरएस अशोक अग्रवाल का नाम सबसे ऊपर है।

वहीं, 10 जून 2019 में को वित्त मंत्रालय ने भ्रष्टाचार के आरोप में लिप्त 12 वरिष्ठ अफसरों को अनिवार्य तौर पर रिटायर कर दिया। इन अफसरों में आयकर विभाग के चीफ कमिश्नर के साथ-साथ प्रिंसिपल कमिश्नर जैसे पदों पर तैनात रहे अधिकारी भी शामिल थे।

LEAVE A REPLY