Home Uncategorized 29 अप्रैल को ही खुलेगें बाबा केदारनाथ के कपाट। पुरोहितों व धर्माचार्यों...

29 अप्रैल को ही खुलेगें बाबा केदारनाथ के कपाट। पुरोहितों व धर्माचार्यों के सामने झुकी सरकार।

135
0

पर्यटन मंत्री सतपाल महाराज ने कल ही कहा था 14 मई को केदारनाथ व 15 को खुलेंगे बद्रीनाथ धाम के कपाट।

देवेन्द्र चमोली
ऊखीमठ – तमाम अटकलों के बीच बाबा केदारनाथ के कपाट तय तिथि व मुहूर्त में ही 29 अप्रैल को खुलने का निर्णय लिया गया हैं । पंचकेदार गद्दीस्थल ओंकारेश्वर मंदिर ऊखीमठ में पंचगाई समिति के प्रमुख लोगों की आज बैठक हुई जिसमें वरिष्ठ तीर्थपुरोहितों, आचार्य और वेदपाठियों के अलावा केदारनाथ के रावल भीमाशंकर लिंग भी उपस्थित थे, बैठक में फैसला लिए गया हैं कि भगवान केदारनाथ के कपाट तय तिथि 29 अप्रैल को ही खोले जायेंगे ।


ओंकारेश्वर मंदिर ऊखीमठ में रावल की उपस्थिति में धर्माचार्यों व तीर्थ पुरोहितों ने भगवान केदारनाथ के कपाट खुलने की तिथि परिवर्तन किये जाने को पंरम्पराओं के विरूद्ध बताया, धर्माचार्यों का कहना है कि ज्योतिष गणना के अनुसार अन्य तिथियों पर शुभ मुहूर्त नही है, जिसके चलते अन्य तिथियों पर विचार करना ठीक नही है, वहीं पंरम्पराओं को देखते हुए केदारनाथ के कपाट तय समय पर खोलना उचित है।

ज्योतिष गणना के अनुसार श्री केदारनाथ धाम के कपाट बुद्धवार 29 अप्रैल को प्रातः 6:10 पर खुलेंगे और परंपरा के अनुसार 26 अप्रैल को डोली शीतकालीन गद्दीस्थल ऊखीमठ से केदारनाथ धाम के लिए रवाना होगी।

राजसत्ता न्यूज़ ने इस बाबत निवर्तमान मंदिर समिति के सीईओ बीडी सिंह से फ़ोन पर उत्तराखंड सरकार के कल वाले फैसले जिसमें केदारनाथ व बद्रीनाथ को क्रमशः मई 14 – 15 को खोलने की बात कही गई तिथियों का जिक्र किया, तो उन्होंने कहा कि केदारनाथ के कपाट कब खुलेंगे यह तय करना मंदिर के धर्माचार्यों व तीर्थ पुरोहितो का हैं न कि उत्तराखंड सरकार का , बदरीनाथ के कपाट खुलने का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा कि बद्रीनाथ के कपाट कब खुलेंगे यह तय करना बद्रीनाथ के रावल एवं टिहरी के महाराज का अधिकर क्षेत्र में हैं ।

उत्तराखंड सरकार के पर्यटन मंत्री सतपाल महाराज का कल एक बयांन आया था , जिसमें उन्होंने केदारनाथ व बद्रीनाथ धाम के कपाट क्रमशः 14 मई व 15 मई को खोलने का वक्तव्य दिया था । शाम होते होते उनका दूसरा बयांन भी सामने आ गया , जिसमें उन्होंने कहा कि बद्रीनाथ धाम के कपाट 15 मई को सुबह साढ़े चार बजे खोले जायेंगे और केदारनाथ के कपाट कल यानि (आज ) घोषित होंगे , जो कि आज केदारनाथ के तीर्थ पुरोहितों व धर्माचार्यों ने घोषित कर दी हैं , अब केदारनाथ के कपाट 29 अप्रैल को खुलेंगे ।

केदारनाथ धाम के कपाट अब अप्रैल 29 व बद्रीनाथ धाम के कपाट 15 मई को खुलेंगे । तो सवाल उठने वाजिब ही हैं, कि क्या सरकार व मंदिर समिति के लोगों के बीच समन्वय नहीं था , और अगर था तो क्यों पहले मई की तारीख जारी की गई , और फिर सरकार क्योँ बैकफुट पर आई, इसका तो सरकार ही बेहतर जवाब दे सकती हैं । उधर रुद्रप्रयाग के जिलाधिकारी मंगेश घिल्डियाल ने बताया कि इस मामले में उन्हें शासन से जो भी निर्देश मिलेंगे उनका पालन किया जायेगा।

LEAVE A REPLY