Home Devki Devi struggling since 4 years to get Ration 4 साल से सरकारी राशन का इंतज़ार करती विधवा देवकी की कहानी

4 साल से सरकारी राशन का इंतज़ार करती विधवा देवकी की कहानी

195
0

इंद्रजीत सिंह असवाल

पौड़ी / थलीसैण : एक ओर जहाँ पूरा देश कोरोना महामारी से जूझ रहा है, वहीं दूसरी ओर एक विधवा महिला राशन कार्ड होने के बाद भी पाँच साल से राशन न मिलने से परेशान है। परंतु यह एक जांच का विषय बन गया है , कि यदि राशन कार्ड बनाया गया तो राशन क्यों नहीं दी गई , और यदि राशन नहीं देनी थी तो यह फर्जी राशन कार्ड किसने बनवाया । यह कहानी है देवकी देवी की , जो कि जैंती खास ,थलीसैण की है , जिनका राशन कार्ड तो अप्रैल 2016 में बन गया था लेकिन राशन का आजतक कुछ अतापता नहीं है।

       

जनपद पौड़ी के थलीसैण ब्लॉक , पट्टी चौथान के ग्राम जैंती , की एक विधवा महिला देवकी देवी को पिछले चार साल से कोई भी सरकारी राशन उपलब्ध नहीं हुई । देवकी देवी के परिवार में 6 सदस्य हैं। कुछ भ्रष्ट कर्मचारियों की लापरवाही व अनदेखी के चलते पिछले चार सालों से देवकी देवी को राशन नहीं मिली है। देवकी देवी , राशन कार्ड पर राशन देने के लिए कई बार ग्राम पंचायत अधिकारी , ग्राम प्रधान व सस्ते गल्ले के डीलर के आगे गुहार लगा चुकी है , मगर प्रशासन के निकम्मेपन से अभी तक देवकी देवी को राशन कार्ड आवंटित होने के बाद भी राशन की अंजुल नहीं मिल पाई है ।

इस संवाददाता ने जब सस्ता गल्ला डीलर दर्शन सिंह से पूछा तो उनका कहना था कि पिछले पाँच साल से महिला का नाम लिस्ट में नहीं था , जिस कारण उनको राशन नहीं दी गई और आज हमनें अपनी दुकान से 16 रुपये किलो के हिसाब से उनको राशन उपलब्ध कराई है , जबकि डीलर ने उनको सस्ते गल्ले की सरकारी राशन , ब्लैक रेट से दी है । अब देखना होगा कि इस डीलर पर प्रशासन क्या कार्यवाही करता है। वंही जब जिला पूर्ति अधिकारी से हमने बात की तो उनका कहना था कि , जिलाधिकारी ने हमें इस मामले में जांच के आदेश दे दिए हैं ,अगर जांच में सत्यता होगी तो डीलर के विरुद्ध तुरन्त कार्यवाही की जाएगी।

LEAVE A REPLY