Home Uncategorized 55 वर्षीय कौसल्या देवी के हत्यारे गुलदार को लगी गोली

55 वर्षीय कौसल्या देवी के हत्यारे गुलदार को लगी गोली

185
0

55 वर्षीय कौसल्या देवी के हत्यारे गुलदार को लगी गोली

दिलबर सिंह बिष्ट

रुद्रप्रयाग। जिले के भरदार पटी में आतंक का पर्याय बने नरभक्षी तेंदुए को प्रख्यात सूटर जाय हुकिल और लखपत सिंह रावत ने विगत रात्री पपढासु के जंगल मे गोली मार दी है । बताया जा रहा है कि गोली लगने के बाद गुलदार घायल अवस्था मे वंहा से फरार हो गया। प्रसासन व शिकारियों की टीम घायल बाघ को खून के धब्बे के सहारे ढूंढने में लगी है।
गौरतलब हैं कि पपढासु ग्राम की 55 वर्षिय कौसल्या देवी पत्नी जगदीश सिंह की पत्नी जंगल मे घास लेने गई थी, इसी दौरान उस पर नरभक्षी गुलदार ने हमला कर दिया और उसे अपना निवाला बना दिया । घटना के बाद से ही शिकारियों का दल गुलदार की पीछे पड गया था , पूर्व निर्धारित योजना के अनुसार ने विगत रात्री को महिला का अधखाया
शव उसी स्थान पर रहने दिया गया जहाँ गुलदार ने उसे अधखाया छोड़ा था , शिकारियों ने योजना के अनुसार दोनों शिकारियों ने पेड पर मचान बनाया और वहां छुप गए । आधी रात मैं गुलदार महिला के शव के पास आया उसी दौरान शिकारी जाय हुकिल और लखपत सिंह रावत ने गुलदार पर टार्च लगाई तो वह भागने लगा ,लेकिन दोनों शिकारी उसपर गोली मारने में सफल रहे, शिकारियों का कहना है कि उसके सिर पर गोली न लग कर उसके शरीर पर लगी है ,जिसे वे खून के धब्बे के सहारे ढूंढ़ खोज करने में लगे है उनका कहना है कि अब उसका बच पाना नामुमकिन है। जिससे क्षेत्र के लोगों के लिये कुछ हद तक राहत भरी खबर है

LEAVE A REPLY