Home Uncategorized गलवान घाटी की घटना पर अमेरिकी पत्रिका न्यूजवीक का खुलासा:झड़प में चीन...

गलवान घाटी की घटना पर अमेरिकी पत्रिका न्यूजवीक का खुलासा:झड़प में चीन के 60 से ज्यादा सैनिक मारे गए।

245
0

राजसत्ता न्यूज ब्यूरो

नई दिल्ली।अमेरिकी पत्रिका न्यूजवीक ने (11 सितंबर) वाले अपने अंक में एक आर्टिकल में गलवान घाटी को लेकर चौंकाने वाले तथ्य उजागर किए है। पत्रिका के आर्टिकल के मुताबिक 15 जून को गलवान में हुई झड़प में चीन के 60 से ज्यादा सैनिक मारे गए। दुर्भाग्य से चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग ही भारतीय क्षेत्र में आक्रामक मूव के आर्किटेक्ट थे, लेकिन उनकी पीपुल्स लिबरेशन आर्मी (पीएलए) इसमें फ्लॉप हो गई। पीएलए से ऐसी अपेक्षा नहीं की जा रही थी। गलवान में हुए एक्शन के बाद चीन खौफ में है।जानकारी के मुताबिक ब्लैक टॉप और हेल्मेट टॉप के आस-पास चीन अपनी गतिविधियां बढ़ा रहा है। सेटेलाइट तस्वीरों में चीनी कैंप दिखाई दे रहे हैं।

लेख में कहा गया है कि भारतीय सीमा पर चीन की सेना की विफलता के परिणाम सामने आ गए। चीनी आर्मी ने शुरुआत में शी जिनपिंग से इस विफलता के बाद फौज में विरोधियों को बाहर करने और वफादारों की भर्ती करने की बात कही है। जाहिर है, बड़े अफसरों पर गाज गिरेगी। सबसे बड़ी बात यह कि विफलता के चलते चीन के आक्रामक शासक जिनपिंग जो कि पार्टी के सेंट्रल मिलिट्री कमीशन के अध्यक्ष भी हैं और इस नाते पीएलए के लीडर भी, वो भारत के जवानों के खिलाफ एक और आक्रामक कदम उठाने के लिए उत्तेजित होंगे।

फाउंडेशन फॉर डिफेंस ऑफ डेमोक्रेसीज के क्लिओ पास्कल के अनुसार मई के महीने में रूस ने भारत को यह बताया था कि तिब्बत के स्वायत्तशासी क्षेत्र में चीन का लगातार युद्धाभ्यास कर रहा है। लेकिन, 15 जून को चीन ने गलवान में भारत को चौंका दिया। यह सोचा-समझा कदम था और चीन के सैनिकों के साथ झड़प में 20 भारतीय जवान शहीद हो गए।

LEAVE A REPLY