Home Uncategorized अल्मोड़ा मेडिकल कालेज का शुरू न हो पाना, बीजेपी की डबल इंजन...

अल्मोड़ा मेडिकल कालेज का शुरू न हो पाना, बीजेपी की डबल इंजन सरकार की बिफलता , पूरन रौतैला

203
0

संजय कुमार अग्रवाल
अल्मोड़ा। अल्मोड़ा कांंग्रेस के नगर अध्यक्ष पूरन सिंह रौतैला ने एक बयान जारी करके कहा है कि अल्मोड़ा मेडिकल कालेज का अभी तक प्रारम्भ ना हो पाना प्रदेश सरकार की उदासीनता को जाहिर करता है।उन्होंने कहा कि पूर्ववर्ती कांंग्रेस सरकार में इस उद्देश्य के साथ मेडिकल कालेज की नीव रखी गयी थी ताकि अल्मोड़ा सहित मुनस्यारी,पिथौरागढ़,बागेश्वर, चम्पावत,रानीखेत आदि पर्वतीय क्षेत्रों के लोगों को इसका लाभ मिल सके।उन्होंने कहा कि स्वास्थ्य सेवाओं के मामले में पर्वतीय क्षेत्र वैसे ही काफी पिछड़े हुए हैं।
अल्मोड़ा मेडिकल कालेज बनने से यहां की जनता को उम्मीद बंधी थी कि मेडिकल कालेज बनने से उन्हें स्वास्थ्य सम्बंधित परेशानियों के लिए मैदानी क्षेत्रों का रूख नहीं करना पड़ेगा , और ईलाज की सुविधाओं उन्हें यहीं पर मिलने लगेंगी।परन्तु जनता का दुर्भाग्य है कि आज साढ़े तीन साल के कार्यकाल में भी भाजपा की डबल इंजन सरकार अल्मोड़ा मेडिकल कालेज को संचालित नहीं करवा पाई जो स्पष्ट तौर पर प्रदेश सरकार की असफलता है।

उन्होंने कहा कि वर्तमान में स्वास्थ्य सुविधाएं पर्वतीय क्षेत्र के लोगों की प्राथमिकताओं में शामिल हैं क्योंकि यहां की स्वास्थ्य सुविधाएं बेहद कमजोर हैं।उन्होंने कहा कि डबल इंजन सरकार बस नाम की ही डबल इंजन है।उन्होंने कहा कि अल्मोड़ा से सांसद तथा विधायक भी बीजेपी के होने के बाद अल्मोड़ा मेडिकल कालेज का अभी तक संचालित ना हो पाना आश्चर्य की बात है।उन्होंने कहा कि भाजपा के नेता इस कोरोनाकाल में भी वर्चुअल रैलियों में व्यस्त हैं। यदि किसी को जनता की जरा भी चिन्ता होती तो अल्मोड़ा मेडिकल कालेज को अभी तक संचालित करा दिया जाता।उन्होंने कहा कि इस डबल इंजन सरकार को जब तक धरने/प्रदर्शन के माध्यम से किसी चीज की सूचना नहीं दी जाती तब तक इस सरकार के कानों में आवाज नहीं जाती।
रौतेला ने कहा कि यदि अविलम्ब अल्मोड़ा मेडिकल कालेज को संचालित नहीं किया गया तो वे जनहित में चरणबद्ध तरीके से आन्दोलन को बाध्य होंगे जिसकी समस्त जिम्मेदारी प्रदेश सरकार की होगी।

LEAVE A REPLY