Home Uncategorized 14.23 लाख रुपये के छात्रवृत्ति घोटाले मैं पूर्व समाज कल्याण अधिकारी व...

14.23 लाख रुपये के छात्रवृत्ति घोटाले मैं पूर्व समाज कल्याण अधिकारी व बैंक सहायक महाप्रबंधक गिरफ्तार

67
0


संजय कुमार अग्रवाल

अल्मोड़ा एसएसी, एसटी, ओबीसी दशमोत्तर कक्षाओं की छात्रवृत्ति घोटाले के मामले में अल्मोड़ा पुलिस को बड़ी सफलता मिली है। माेनार्ड यूनिवर्सिटी के एक अधिकारी की गिरफ्तारी के बाद अब अल्मोड़ा पुलिस ने एक पूर्व समाज कल्याण अधिकारी राजेश कुमार सक्सेना लखनऊ और आइओबी बैंक के सहायक महाप्रबंधक जैन अब्बास पुत्र कमर अब्बास निवासी फूलबाग कॉलोनी, थाना कुडंबा लखनऊ को गिरफ्तार कर लिया ।


गौरतलब हैं क़ि 10 जनवरी 2010 को कोतवाली रानीखेत में मोनार्ड यूनिवर्सिटी हापुड़ (उत्तर प्रदेश) व कुछ अन्य लोगों के खिलाफ जिला समाज कल्याण अधिकारी कार्यालय को प्राप्त छात्रवृत्ति की 14.23 लाख रुपये की राशि को झूठे दस्तावेज तैयार कर षड्यंत्र के तहत गबन के आरोप में धारा 409 /420 /467 /468 /471 /120 बी के तहत मुकदमा दर्ज कराया गया था। मामले में की गंभीरता देखते हुए बरिष्ठ पुलिस अधीक्षक प्रहलाद नारायण मीणा ने इसकी जाँच उप निरीक्षक बसंती आर्या को सौंपी । इस मामले में विवेचना के बाद मोनार्ड यूनिवर्सिटी के अनुज गुप्ता काे पूर्व में पुलिस गिरफ्तार कर चुकी थी।जबकि अन्य लोगों की गहनता से तलाश की जा रही थी। इस मामले मैं पुलिस टीम को बड़ी सफलता तब मिली जब दबिश के दौरान लखनऊ से पूर्व समाज कल्याण अधिकारी राजेश कुमार सक्सेना लखनऊ और आइओबी बैंक के सहायक महाप्रबंधक जैन अब्बास पुत्र कमर अब्बास निवासी फूलबाग कॉलोनी, थाना कुडंबा लखनऊ को गिरफ्तार कर लिया गया।
अभ्युक्तों को गिरफ्तार करने मैं बरिष्ठ उप निरीक्षक बसंती आर्य के अलावा कांस्टेबल मोहन वोरा , कांस्टेबल नारायण रावल कांस्टेबल दिलीप कुमार ने अपनी सक्रिय भूमिका निभाई।

LEAVE A REPLY