Home Uncategorized अल्मोड़ा। बदहाल स्वास्थ्य सेवाओं को लेकर कांग्रेस का प्रदर्शन,महिला की मौत को...

अल्मोड़ा। बदहाल स्वास्थ्य सेवाओं को लेकर कांग्रेस का प्रदर्शन,महिला की मौत को लेकर मुख्यमंत्री को दिया ज्ञापन

198
0

संजय कुमार अग्रवाल

अल्मोड़ा। जिले में दिन प्रतिदिन बदहाल हो रही स्वास्थ्य सेवाओं एवम् असंवेदनशील चिकित्सा विभाग की लापरवाही से नाराज कांग्रेसी कार्यकर्ताओं ने आज पूर्व विधायक मनोज तिवारी ने नेतृत्व में जिलाधिकारी के माध्यम से मुख्यमंत्री को ज्ञापन प्रेषित कर अल्मोड़ा की बद से बदतर हो रही स्वास्थ्य सेवाओं को दुरूस्त करने की मांग के साथ,विगत दिनों अस्पताल प्रशासन की लापरवाही से अपनी जान गवां चुकी गर्भवती महिला के मामले में निष्पक्ष जांच कर दोषियों को दण्डित करने की मांग की है।कांग्रेस ने अल्मोड़ा मेडिकल कालेज को अविलम्ब संचालित करने की मांग भी की है।अपने पूर्व घोषित कार्यक्रम के अनुसार कांग्रेस कार्यकर्ता आज दोपहर 12 बजे कलक्ट्रेट परिसर में एकत्रित हुए तथा प्रदेश सरकार,स्थानीय विधायक एवम् स्वास्थ्य विभाग के विरोध में जमकर नारेबाजी कर गहरा रोष व्यक्त किया।इस अवसर पर कांग्रेसजनों ने कहा कि विगत लम्बे समय से अल्मोड़ा के निवासी अल्मोड़ा शहर की बदहाल चिकित्सा सेवाओं एवम् चिकित्सा विभाग के असंवेदनशील रवैये के कारण त्रस्त हैं।

चिकित्सालयों की लापरवाही से कई लोग अपनी जान से हाथ धो बैठे हैं, एवं कई मरीज उचित ईलाज के अभाव में महंगे प्राईवेट अस्पतालों में ईलाज करवाने हेतु मजबूर हैं।कांग्रेस ने कहा कि जिला अस्पताल की स्थिति दिन प्रतिदिन खराब होती जा रही है।विगत दिनों अल्मोड़ा कोसी-कटारमल निवासी मुन्ना सिंह की पत्नी आशा देवी जो कि पांच माह की गर्भवती थी उन्हें कोरोना की आशंका के चलते जिला अस्पताल से बेस अस्पताल दौड़ाया गया।जिस कारण ईलाज में हुई अत्यधिक देरी एवम् लापरवाही से महिला एवम् उसके गर्भ में पल रहे 5 माह के शिशु की मृत्यु हो गयी।कांग्रेसजनों ने कहा कि यदि महिला की जिला अस्पताल में ही कोरोना की रैपिड जांच हो जाती एवं डाक्टर उस महिला को 9 घंटों तक भटकाने के बजाय त्वरित चिकित्सा प्रदान करते तो महिला एवं उसके गर्भस्त शिशु की जान बचाई जा सकती थी।

यह प्रकरण चिकित्सा विभाग की असंवेदनशीलता एवं घोर लापरवाही को प्रदर्शित करता है।कांग्रेसजनों ने कहा कि पूर्व में भी अल्मोड़ा चिकित्सा विभाग की असंवेदनशीलता के कारण कई मरीजों को परेशानियों का सामना करना पड़ा है एवम् अनेकों प्रसूताओं को उचित ईलाज ना मिल पाने के कारण अपनी जान गवानी पड़ी।इस अवसर पर कांग्रेसजनों ने स्पष्ट मांग की है कि उक्त प्रकरण में लिप्त लापरवाह चिकित्सकों के खिलाफ कड़ी से कड़ी कार्यवाही की जाए ताकि भविष्य में ऐसी घटनाएं ना हों।उन्होंने पीड़ित परिवार को उचित राहत राशि प्रदान करने की भी मांग की।उन्होंने कहा कि यदि मामले की निष्पक्ष जांच करने के साथ ही दोषी चिकित्सकों एवम् कर्मचारियों पर कड़ी कार्यवाही नहीं की जाती है तो कांंग्रेस पार्टी जनता को साथ में लेकर एक वृहद आन्दोलन को बाध्य होगी।

इसके साथ ही कांग्रेस ने मांग की है कि अस्पताल प्रशासन की लापरवाही से मृतक महिला के परिवारजनों को उचित सहायता राशि दी जाए।ज्ञापन में पूर्व विधायक मनोज तिवारी,नगरपालिका अध्यक्ष प्रकाश चन्द्र जोशी,नगर अध्यक्ष पूरन सिंह रौतैला,महिला जिलाध्यक्ष लता तिवारी,ब्लाक अध्यक्ष राजेन्द्र बोरा,भूपेन्द्र भोज,जिला वरिष्ठ उपाध्यक्ष तारा चन्द्र जोशी,जिला उपाध्यक्ष पारितोष जोशी,विनोद वैष्णव,महिला नगर अध्यक्ष किरन साह,गीता मेहरा,राधा बिष्ट,सुरेश परदेशी,एड०महेश चन्द्र, जिला प्रवक्ता राजीव कर्नाटक, जिला सचिव दीपांशु पान्डेय,संजय दुर्गापाल,तारू तिवारी,राबिन मनोज भण्डारी,सहित अनेकों कार्यकर्ता उपस्थित थे।

LEAVE A REPLY