Home Uncategorized अल्मोड़ा की बदहाल स्वास्थ्य सुबिधाओं को लेकर कांग्रेस के पूर्व विधायक मनोज...

अल्मोड़ा की बदहाल स्वास्थ्य सुबिधाओं को लेकर कांग्रेस के पूर्व विधायक मनोज तिवारी का धरना , गर्भवती महिला की मौत की निष्पक्ष जांच की मांग

173
0

संजय कुमार अग्रवाल

अल्मोड़ा : कुछ दिनों पूर्व समुचित ईलाज न मिल पाने के कारण अल्मोड़ा में एक गर्भवती महिला की मौत हो गयी थी, जिससे अल्मोड़ा वासियों में गहरा रोष व्याप्त है।अल्मोड़ा की दिन प्रतिदिन बदहाल हो रही स्वास्थ्य सेवाओं अवं असंवेदनशील चिकित्सा विभाग की लापरवाही के विरोध में अल्मोड़ा के कांग्रेसी कार्यकर्ताओं ने पूर्व विधायक मनोज तिवारी के नेतृत्व में सीएमओ आफिस में धरना देकर अपना रोष व्यक्त किया।इस अवसर पर पूर्व विधायक मनोज तिवारी ने कहा कि विगत लम्बे समय से अल्मोड़ा के निवासी अल्मोड़ा शहर की बदहाल चिकित्सा सेवाओं एवम् चिकित्सा विभाग के असंवेदनशील रवैये के कारण त्रस्त हैं।चिकित्सालयों की लापरवाही से कई लोग अपनी जान से हाथ धो बैठे हैं एवं कई मरीज उचित ईलाज के अभाव में महंगे प्राईवेट अस्पतालों में ईलाज करवाने हेतु मजबूर हैं।

तिवारी ने कहा कि जिला अस्पताल की स्थिति दिन प्रतिदिन खराब होती जा रही है,जो कि दुर्भाग्यपूर्ण है।राज्यसभा सांसद प्रदीप टम्टा ने कहा कि कुछ दिनों पूर्व अल्मोड़ा कोसी-कटारमल निवासी मुन्ना सिंह की पत्नी आशा देवी जो कि पांच माह की गर्भवती थी उन्हें कोरोना की आशंका के चलते जिला अस्पताल से बेस अस्पताल दौड़ाया गया।जिस कारण ईलाज में हुई अत्यधिक देरी एवम् लापरवाही से महिला एवम् उसके गर्भ में पल रहे 5 माह के शिशु की मृत्यु हो गयी।उन्होंने कहा कि यदि महिला की जिला अस्पताल में ही कोरोना की रैपिड जांच हो जाती एवं डाक्टर उस महिला को 9 घंटों तक भटकने के बजाय त्वरित चिकित्सा प्रदान करते तो महिला एवं उसके गर्भस्त शिशु की जान बचाई जा सकती थी।
यह प्रकरण चिकित्सा विभाग की असंवेदनशीलता एवं घोर लापरवाही को प्रदर्शित करता है।जिलाध्यक्ष पीताम्बर पान्डेय ने कहा कि पूर्व में भी अल्मोड़ा चिकित्सा विभाग की असंवेदनशीलता के कारण कई मरीजों को परेशानियों का सामना करना पड़ा है एवम् अनेकों प्रसूताओं को उचित ईलाज ना मिल पाने के कारण अपनी जान गवानी पड़ी है।कांग्रेसजनों इस अवसर पर स्पष्ट मांग की है कि उक्त प्रकरण में लिप्त लापरवाह कर्मचारियों के खिलाफ कड़ी से कड़ी कार्यवाही की जाए ताकि भविष्य में ऐसी घटनाएं ना हों।उन्होंने पीड़ित परिवार को उचित राहत राशि प्रदान करने की भी मांग की।

कांंग्रेस नगर अध्यक्ष पूरन सिंह रौतैला ने कहा कि यदि मामले की निष्पक्ष जांच करने के साथ ही दोषी चिकित्सकों एवम् कर्मचारियों पर कड़ी कार्यवाही नहीं की जाती है तो कांंग्रेस पार्टी जनता को साथ में लेकर एक वृहद आन्दोलन को बाध्य होगी।

धरना-प्रदर्शन में कांंग्रेस जिलाध्यक्ष पीताम्बर पान्डेय,राज्यसभा सांसद प्रदीप टम्टा,पूर्व विधायक मनोज तिवारी, नगर अध्यक्ष पूरन सिंह रौतैला,महिला जिलाध्यक्ष लता तिवारी,यूथ अध्यक्ष निर्मल रावत,राजेन्द्र बाराकोटी,वरिष्ठ उपाध्यक्ष तारा चन्द्र जोशी,पारितोष जोशी,राजेन्द्र बोरा,गीता मेहरा,राधा बिष्ट,संजय दुर्गापाल,शरद साह,दीपा साह,दीप सिंह डांगी,अमित बिष्ट, जिला प्रवक्ता राजीव कर्नाटक, जिला सचिव दीपांशु पान्डेय,विपुल कार्की,महेन्द्र बिष्ट, विनोद वैष्णव, सहित दर्जनों कांग्रेस कार्यकर्ता उपस्थित थे ।

LEAVE A REPLY