Home Uncategorized कांग्रेस की मांग: प्रदेश के कलाकारों को सरकार दे 7500/-रुपये प्रतिमाह, एक...

कांग्रेस की मांग: प्रदेश के कलाकारों को सरकार दे 7500/-रुपये प्रतिमाह, एक हजार की राशि को बताया कलाकारों के साथ भद्दा मजाक

78
0

राजसत्ता न्यूज़ ब्यूरो

नई दिल्ली : कांग्रेस के पूर्व राष्ट्रीय सचिव प्रकाश जोशी ने कहा हैं कि कोरोना महामारी के चलते लोक कलाकारों व कमर्शियल वाहन के चालकों व परिचालकों को प्रदेश बीजेपी सरकार द्वारा आर्थिक मदद के नाम पर मात्रा एक हजार रुपये की धनराशि देना उनके साथ भद्दा मजाक करने जैसा हैं। बर्तमान महंगाई के दौर में किसी भी परिवार व व्यक्ति के लिए एक हजार रूपये में घरेलू खर्च चला पाना मुश्किल ही नहीं बल्कि असंभव हैं।

उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार विधायकों, सरकारी कर्मचारियों व समाज के बिभिन्न बर्गों से कोरोना महामारी के नाम पर वेतन /भत्तों से कटौती करके जो उगाही कर रही है, उस धन से लोक कलाकारों व कमर्शियल वाहन चालक /परिचालकों को समुचित आर्थिक मदद देने के बजाय मात्रा एक हजार रुपये देना अत्यंत हास्यास्पद लगता है। उन्होंने इसे ऊठ के मुँह में जीरे वाली बात करार दिया ।
प्रकाश जोशी ने कहा कि बिगत तीन माह से कोरोना महामारी के कारण हुए लॉकडाउन की वजह से परिवहन सेक्टर के लोगों व प्रदेश के लोक कलाकारों की आमदनी पूर्ण रूप से ठप्प हैं। ऐसे में प्रदेश सरकार उन्हें मात्र एक हजार रूपये देकर इनके जख्मों मरहम लगाने के
बजाय नमक लगाने जैसा काम कर रही हैं।

उन्होंने कहा कि कोरोनाकाल की वर्तमान स्थिति को देखते हुए भाजपा सरकार द्वारा प्रदेश के लोक कलाकारों व कामर्शियल वाहन चालकों को आजीविका न होने की स्थिति में लगभग 10 से 15 हजार रूपये आर्थिक मदद के तौर पर देने की आवश्यकता है, जिससे इन्हें कुछ राहत मिल सके, क्योंकि महंगाई अपनी चरम सीमा पर है और ऐसे में एक हजार रूपये किसी भी व्यक्ति के लिए परिवार चलाने के लिये उपयुक्त नहीं हो सकते हैं। अच्छा होता कि प्रदेश सरकार इस राशि को बढ़ाकर प्रतिमाह 7500 रूपये कर देती, जिसकी माॅग कांग्रेस पार्टी पूर्व में भी निरन्तर करती आ रही है, परन्तु भाजपा सरकार जनसरोकार के मुद्दों से दूर अपने राजनैतिक कार्यक्रमों (वर्चुअल रैली) में अधिक व्यस्त है।

LEAVE A REPLY