Home Uncategorized आख़िरकार पकड़ी गई,एक करोड़ की घोटालेबाज अनामिका शुक्ला

आख़िरकार पकड़ी गई,एक करोड़ की घोटालेबाज अनामिका शुक्ला

229
0

राजसत्ता न्यूज़ ब्यूरो

कासगंज। उत्तर प्रदेश के बेसिक शिक्षा विभाग को चमका देकर फर्जीवाड़ा करने वाली शिक्षिका अनामिका शुक्ला को तो शनिवार को उत्तर प्रदेश पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। लकिन कौन हैं इस पहेली के पीछे का असली किरदार , जिसने पूरे मामले को अंजाम दिया , आख़िरकार अनामिका को इतनी जगह कैसे नियुक्ति मिल गई , क्या शिक्षा बिभाग का ही अधिकरी मिला हुआ हैं इस साजिश में?

उत्तर प्रदेश के 25 जिलों में फर्जी तरीके से नौकरी करने के मामले में सुर्खियों में आई थे , जिसे अंत मैं कासगंज पुलिस ने शनिवार को गिरफ्तार कर लिया। बताया जा रहा हैं की अनामिका शनिवार को त्यागपत्र देने आई थी, उसी दौरान पुलिस ने उसे दबोच लिया। अनामिका कस्तूरबा विद्यालय फरीदपुर में विज्ञान की शिक्षिका के रूप में काम कर रही थी ।   बेसिक शिक्षा विभाग के उच्च अधिकारियों के निर्देशों पर जिले में अनामिका शुक्ला नाम की शिक्षिका की तलाश की गई तो कस्तूरबा विद्यालय में यह शिक्षिका पाई गई। एक दिन पूर्व शुक्रवार को बीएसए (बेसिक शिक्षा अधिकारी) ने शिक्षिका के वेतन आहरण पर रोक लगाते हुए नोटिस जारी किया था। 

फर्जी नौकरी से एक करोड़ रुपये कमाने का आरोप
अनामिका शुक्ला की पोस्टिंग प्रयागराज, अंबेडकरनगर, अलीगढ़, सहारनपुर, बागपत सहित अन्य जिलों के कस्तूरबा गांधी बालिका विद्यालयों (केजीबीवी) में स्कूलों में पाई गई । इन स्कूलों में टीचर्स की नियुक्ति कॉन्ट्रैक्ट बेसिस पर होती है और हर महीने 30 हजार रुपये की तनख्वाह रहती है। 13 महीनों के दौरान अनामिका शुक्ला पर कथित तौर पर एक करोड़ रुपये कमाने का आरोप लगा है। टीचर्स का डेटाबेस तैयार करते वक्त यह गड़बड़झाला सामने आया है।

कैसे आया नाम सामने
कुछ समय पहले मानव संपदा पोर्टल की व्यवस्था लागू होने के बाद केजीबीवी की भी सभी शिक्षिकाओं का डाटा पोर्टल पर दर्ज किया गया। इसमें बागपत में अनामिका शुक्ला का डाटा दर्ज करते ही पकड़ में आया कि अनामिका शुक्ला के नाम से ही मैनपुरी, अंबेडकरनगर, बागपत, अयोध्या, अलीगढ़, सहारनपुर और प्रयागराज के कुल 24 केजीबीवी में भी शिक्षिकाएं कार्यरत हैं। अनामिका को बीते 13 महीने में 25 केजीबीवी में करीब कुल एक करोड़ रुपये के मानदेय का भुगतान किया गया है। जिसके बाद अनामिका के खिलाफ बागपत में एफआईआर दर्ज कराई गई है।

LEAVE A REPLY