Home Uncategorized विकासखंड धौलछीना तथा इससे लगे इलाकों में तेंदुए का आतंक, प्रशासन किसी...

विकासखंड धौलछीना तथा इससे लगे इलाकों में तेंदुए का आतंक, प्रशासन किसी बड़े हादसे के इंतजार में।

82
0

संजय कुमार अग्रवाल

धौलछीना। विकासखंड मुख्यालय धौलछीना तथा इसके आस पास के गांवों में तेंदुए ने जबरदस्त आतंक मचाया हुआ है। एक हफ्ते के भीतर ही तेंदुआ लगभग एक दर्जन पालतू जानवरों को अपना निवाला बना चुका है। तेंदुए की सक्रियता आबादी वाले क्षेत्रों में लगातार बढ़ रही है । आबादी वाले क्षेत्रों में तेंदुए की सक्रियता बढ़ने से ग्रामीण खौफ के साए में जी रहे हैं ।ग्रामीणों ने वन विभाग से तेंदुए के आतंक से निजात दिलाने की मांग की है। पिछले एक पखवाड़े से धौलछीना तथा उसके आसपास के गांव दियारी, काचुंला, कलोन, बबुरिया नायल, खाखरी आदि गांव में तेंदुए ने आतंक मचा रखा है।


तेंदुआ एक हफ्ते के अंदर ही कई पालतू कुत्ते, बकरियां तथा गायों को अपना निवाला बना चुका है। तेंदुआ दिनदहाड़े दिखाई दे रहा है। तेंदुए के आतंक से बच्चे बाहर खेलने तथा महिलाएं खेतों में जाने से डर रही हैं। 3 दिन पूर्व खाकरी निवासी हीरा सिंह की दुधारू गाय को तेंदुए ने अपना निवाला बना लिया। दियारी गांव के दान सिंह तथा काचुला निवासी दीवान सिंह की बकरी को तेंदुए ने दिनदहाड़े अपना निवाला बना लिया। इसके अलावा कई पालतू कुत्तों सहित लगभग एक दर्जन मवेशी तेंदुए का निवाला बन चुके हैं। ग्रामीणों ने वन विभाग से तेंदुए को पकड़ने की मांग की है। ग्रामीणों का कहना है कि तेदुआ नहीं पकड़ा गया तो कभी भी कोई अनहोनी हो सकती है।

LEAVE A REPLY