Home Uncategorized अल्मोड़ा के फलसीमा इलाके से पकड़ा गया गुलदार

अल्मोड़ा के फलसीमा इलाके से पकड़ा गया गुलदार

188
0

राजसत्ता न्यूज़ ब्यूरो

अल्मोड़ा : अल्मोड़ा शहर में आतंक का पर्याय बन चुका गुलदार आख़िरकार आज सुबह फलसीमा इलाके में वन विभाग द्वारा लगाए गए पिंजरे में फंस गया । गुलदार के पकडे जाने के बाद से इलाके की जनता ने राहत की सांस ली हैं। अल्मोड़ा नगर क्षेत्र में पिछले कई दिनों से गुलदार सुबह और शाम को आबादी के आसपास दिखाई दे रहे हैं। सोमवार देर शाम एक तेंदुआ धारानौला के पास घूमता देखा गया जिसे लोगों ने कैमरे में भी कैद किया। नगर के आसपास तेंदुए दिखाई देने से लोग भयभीत हैं। सोमवार की सुबह घास काटने जा रही फलसीमा की दो महिलाओं पर गुलदार ने हमला कर घायल कर दिया था।

फलसीमा, सिकुड़ा बैंड, गोलनाकरडिया इलाकों के लिए गुलदार में आंतक का पर्याय था। बन विभाग ने अभी हाल ही में एक महिला पर हुए हमले के बाद से इलाके में पिंजरा लगाया हुआ था , आज सुबह 5:00 बजे फलसीमा में स्थानीय लोगों ने गुलदार को पिंजरे में कैद देखा, तो इसकी सूचना तुरंत वन विभाग को दी गई, सूचना मिलने पर वन क्षेत्राधिकारी संचित वर्मा अपने सहयोगियों के साथ मौके परपहुंचे। व गुलदार को रेस्क्यू कर रेस्क्यू सेंटर ले गए ।

गुलदार की उम्र लगभग 9 साल के आसपास है इसके दांत और पंजेना पूर्ण रूप से विकसित व पूरी तरह से ठीक है। बन बिभाग का कहना हैं ी अभी भी जनता को सावधान रहने की जरूरत हैं। बन बिभाग के लोगों का मानना है नर गुलदार के पकडे जाने के बाद उसके परिवार के अन्य सदस्य और मादा गुलदार और अधिक आक्रामक हो जाते है। अब और चिंता इस बात की हैं कि कहीं इस गुलदार के परिवार की मादा और पर आक्रमक ना हो जाए, और स्थानीय जनता पर हमला करना शुरू कर दे , इसलिए फिलहाल सावधानी बरतने की आवश्यकता है।

वन विभाग का यह प्रयास है कि गुलदार के परिवार के अन्य सदस्यों को भी पकड़ लिया जाए और अन्य को भी पकड़ने की कोशिश की जा रही है इनको पकड़कर कहीं सुरक्षित जंगलों में छोड़ दिया जाएगा।

LEAVE A REPLY