Home Uncategorized चारधाम यात्रा : 30 जून तक केवल स्थानीय श्रद्धालु ही कर सकेंगे...

चारधाम यात्रा : 30 जून तक केवल स्थानीय श्रद्धालु ही कर सकेंगे चार धाम यात्रा

177
0

राजसत्ता न्यूज़ ब्यूरो

पौड़ी, 9 जून: तीर्थ पुरोहितों और पंडा समाज के विरोध को देखते हुए चारधाम यात्रा 30 जून तक टली गई है। केवल स्थानीय श्रद्धालुओं को ही दर्शन करने कि अनुमति दी गई हैं ।जिलाधिकारी, रुद्रप्रयाग/उत्तरकाशी/चमोली द्वारा अपने जनपद में स्थित धामो में आमजन/हक-हकूक धारियों से विचार विमर्श कर यह सुनिश्चित किया गया है कि वर्तमान में कोविड-19 महामारी की परिस्थितियों के दृष्टिगत चारधाम यात्रा को वर्तमान में 30 जून,2020 तक स्थगित किया जाना आम जनमानस के हित में उचित होगा।
इसके साथ ही उत्तराखंड देवस्थानम बोर्ड ने चारधामों में स्थानीय लोगों के जाने के लिए संख्या तय की है। बदरीनाथ में 1200, केदारनाथ में 800, गंगोत्री में 600 और यमुनोत्री में 400 श्रद्धालु प्रतिदिन जाएंगे।

चार धाम मंदिरों कुछ गाइडलाइन बनाई गई हैं गाइडलाइन के अनुसार ही भगवान श्री केदारनाथ देवस्थानम् दर्शन का समय प्रातः: 7:00 से सायं 7:00 तक रहेगा। तीर्थ यात्रा गणों को दर्शन हेतु निःशुल्क टोकन प्राप्त करने होंगे, जिन्हें देवस्थानम् बोर्ड द्वारा निःशुल्क उपलब्ध कराया जायेगा। निःशुल्क दर्शन टोकन काउण्टर में शारिरिक दूरी बनाए रखना एवं मास्क लगाना अनिवार्य होगा।
श्री बदरीनाथ धाम में उक्त प्रक्रिया तहत प्रतिदिन 800 श्रद्धालुओं को निःशुल्क टोकन आवंटित किये जायेंगे, जो तदनुसार सभी शासन प्रशासन के दिशा-निर्देशों का पालन करते हुये दर्शन का पुण्य लाभ प्राप्त कर पायेंगे। निःशुल्क टोकन 1 व्यक्ति को एक समय में 3 से अधिक टोकन आंवटित नहीं किये जायेंगे। टोकन की जांच मुख्य द्वार में की जायेगी।

LEAVE A REPLY