Home Uncategorized अल्मोड़ा की ऐतिहासिक जेल को राष्ट्रीय स्मारक व पर्यटन केंद्र के रूप...

अल्मोड़ा की ऐतिहासिक जेल को राष्ट्रीय स्मारक व पर्यटन केंद्र के रूप में विकसित किया जाएगा

103
0

संजय कुमार अग्रवाल

अल्मोड़ा 9 अगस्त,2020। भारत छोड़ो आन्दोलन की 78वीं वर्षगांठ के अवसर पर ऐतिहासिक जेल अल्मोड़ा में विधानसभा उपाध्यक्ष रघुनाथ सिंह चैहान, नगर पालिका अध्यक्ष प्रकाश चन्द्र जोशी, अपर जिलाधिकारी बीएल फिरमाल आदि ने नेहरू वार्ड में राष्ट्रीय स्वतन्त्रता संग्राम आन्दोलन में सक्रिय स्वतन्त्रता संग्राम सेनानियों को पुष्प अर्पित कर श्रद्धाजंली दी। सभी लोगो ने नेहरू वार्ड में जाकर स्वतन्त्रता संग्राम सेनानियों, जिनमें देश के प्रथम प्रधानमंत्री जवाहर लाल नेहरू, गोविन्द बल्लभ पंत, हर गोविन्द पंत, विक्टर मोहन जोशी, खान अब्दुल गफ्फार खान, सैयद अली, देवीदत्त पंत, दुर्गा सिंह, बद्रीदत्त पाण्डे, आर्चाय नरेन्द्र देव आदि के चित्रों पर माल्यार्पण किया।

इस दौरान विधानसभा उपाध्यक्ष ने कहा कि 9 अगस्त, 1942 को भारत छोड़ो आन्दोलन की शुरूआत हुई थी जिसमें कई स्वतंत्रता संग्राम सेनानियों ने बढ़चढ़ कर भागीदारी की 9 अगस्त, 1942 में देश के कई इलाको में बड़ी रैलिया हुई खासतौर पर पटना, दिल्ली व बम्बई में नवजवानों ने इस आन्दोलन में बढ़चढ़ कर भागीदारी की। उन्होंने कहा कि इन स्वतंत्रता संग्राम इन स्वतंत्रता संग्राम सेनानियों की वजह से हम आज खुली हवा में चैन की सांस ले रहे हैं।

विधानसभा उपाध्यक्ष ने ऐतिहासिक जेल को राष्ट्रीय स्मारक बनाने व पर्यटन के रूप विकसित करने की बात कही। उन्होंने इस अवसर पर कहा कि इस ऐतिहासिक जेल में अनेक विभूतियों ने अपनी गिरफ्तारी देकर स्वत्रंता आन्दोलन को आगे बढ़ाया। हमारा प्रयास रहेगा कि हम अपने स्वतन्त्रता आन्दोलन में शहीद हुए लोगो के सपनो का सकार करने के लिए इस तरह के कार्य करें जिससे हमारी युवा पीढ़ी देश को एक नई दिशा की ओर ले जा सके।
इस अवसर पर नगरपालिका अध्यक्ष प्रकाश चन्द्र जोशी ने कहा कि राष्ट्रपिता महात्मा गाॅधी द्वारा चलाये गये इस आन्दोलन को जो समर्थन मिला उसी का परिणाम आज हम आजादी के रूप में मना रहे है। अपर जिलाधिकारी बीएल फिर माल ने भी पुष्प अर्पित कर स्वतंत्रता संग्राम सेनानियों को नमन करते हुए उनके बलिदान को याद किया उन्होंने कहा कि कोविड-19 संक्रमण को देखते हुए हैं इस वर्ष सूक्ष्म aकार्यक्रम ही रखा गया। इस दौरान जेलर मेघराज सिंह गिरीश मल्होत्रा जेसी दुर्गापाल भुवन चंद्र लोनी मोहन चंद्र कांडपाल सौरभ मल्होत्रा कमल बिष्ट आदि ने भी स्वतंत्रता संग्राम सेनानियों को श्रद्धांजलि दी।

LEAVE A REPLY