Home Uncategorized रुद्रप्रयाग: जिलाधिकारी के एक फैसले ने बचाई कई लोगों की जान

रुद्रप्रयाग: जिलाधिकारी के एक फैसले ने बचाई कई लोगों की जान

347
0

सतेन्द्र सिंह बिष्ट/देवेन्द्र चमोली

रुद्रप्रयाग- जनपद में लगातार बढ़ रही कोरोनो संक्रमितों की सख्या, जिला प्रशासन सहित स्वास्थ्य विभाग व कोरोनो की ड्यूटी मे दिन रात लगे हुए कर्मचारियों के लिए एक बड़ी चुनौती बनी हुई है। प्रशासन के सामने सबसे बड़ी चुनौती हैं, कि वह अपने कर्मचारियों को संक्रमण से कैसे बचायें। रुद्रप्रयाग में कोरोना संक्रमण के शुरुवाती सभी मामले, अन्य प्रदेशों से घर वापसी करने वाले प्रवासियों के थे। इन सभी प्रवासियों को संस्थागत क्वारनटीन सेंटरों मे रखा गया था , इस दौरान किसी भी स्थानीय नागरिक में संक्रमण का मामला सामने नहीं आया।

लेकिन अब मामला कुछ अलग हो गया हैं ,अब सामने आ रहा है कि कोरोना ड्यूटी में लगे हुए कर्मचारियों में भी संक्रमण के मामले सामने आने लगे हैं। जैसे ही यह मामला जिलाधिकारी बंदना सिंह के संज्ञान में आया तो उन्होंने जिले का कार्यभार ग्रहण करते ही कोरोना ड्यूटी में लगे सभी कर्मचारियों का रैडंम सैंपलिंग अनिवार्य रूप से किये जाने का निर्णय लिया, जो कि अब एक बड़ा कदम साबित हुआ । अब कुछ मामले स्थानीय लोगों के संक्रमित होने के भी सामने आए है, और ये सभी कोरोना ड्यूटी वाले कर्मचारी है, अकेले तहसील रुद्रप्रयाग के पांच कर्मचारियों के सैंपल पॉजटिव पाये गए हैं, जिस कारण पूरे तहसील परिसर को सील कर दिया गया। इन कर्मचारियों से संक्रमण के समुदाय में फैलने कि संभावना को नजरअंदाज नहीं किया जा सकता है।

फिलहाल जिला प्रशासन व स्वास्थ्य विभाग ने समय रहते संक्रमित पाये गये कर्मचारियों व उनके संपर्क में आये स्थानीय लोगों को आईसोलेट कर संक्रमण फैलने की संभावनओ पर नियंत्रण करने में कामयाबी पा ली हैं। इस मामले में सबसे अच्छी बात यह रही कि जिलाधिकारी ने समय रहते कर्मचारियों का रेंडम सैंपलिंग करवाने का फैसला लिया , यदि यह कदम न उठाया गया होता तो , संक्रमण को रोकने वाले ही खुद कोरोना वाहक बन जाते , जिस कारण संक्रमण बहुत तेजी से फैलता , क्योंकि ये कर्मचारी ड्यूटी पर रहते हुए कई लोगों को संक्रमित कर सकते थे। इसके अलावा तहसील परिसर में आम जनता को भी विभागीय कार्यो हेतु कार्यालयों में आना जाना बना रहता है। जिला प्रशासन के इस बड़े कदम के बाद जनता में प्रशासन के प्रति विस्वास का भाव सामने आया हैं , स्थानीय जनता जिलाधिकारी के इस कदम का स्वागत कर रही हैं ।

LEAVE A REPLY