Home Uncategorized हरिद्वार-ऋषिकेश से देहरादून तक मेट्रो रेल चलाने का रास्ता साफ़ , केंद्र...

हरिद्वार-ऋषिकेश से देहरादून तक मेट्रो रेल चलाने का रास्ता साफ़ , केंद्र को भेजा प्रस्ताव

296
0

राजसत्ता न्यूज़ ब्यूरो

देहरादून 11 जून। मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत की अध्यक्षता में गुरूवार को सचिवालय में यूनिफाईड मैट्रो पॉलिटन ट्रांसपोर्ट ऑथोरिटी (यू.एम.टी.ए) की बैठक हुई। बैठक में उत्तराखण्ड मैट्रो रेल परियोजना के कॉम्प्रीहेंसिव मॉबिलिटी प्लान (सी.एम.पी) को मंजूरी दी गई। देहरादून शहर में दिल्ली मैट्रो रेल कॉरपोरेशन के सहयोग से रोप-वे प्रणाली की डीपीआर तैयार की जा रही है। हरिद्वार-ऋषिकेश एवं नेपाली फार्म -विधानसभा कोरिडोर में मैट्रो लाईट के निर्माण के साथ ही हरिद्वार शहर में पी.आर.टी के निर्माण हेतु अनुमोदन प्राप्त किया गया।

पहले चरण में 11 हजार करोड़ का खर्च होने का अनुमान है। वहीं अथॉरिटी ने देहरादून शहर में रोपवे और हरिद्वार शहर में पीआरटी बनाने पर भी सहमति बन गई है। मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत की अध्यक्षता में यू.एम.टी.ए का गठन किया गया है। इसमें आवास मंत्री, उत्तराखण्ड उपाध्यक्ष, मुख्य सचिव सदस्य सचिव, सचिव आवास, वित्त, परिवहन, नियोजन, राजस्व एवं शहरी विकास सदस्य हैं।

इस बात की जानकारी विधासभा अध्यक्ष प्रेम चन्द अग्रवाल ने भी अपने ट्विटर पर शेयर की है

@MLAPremAggarwal
प्रदेश सरकार द्वारा 11 हजार करोड रुपए से हरिद्वार – ऋषिकेश एवं नेपाली फ़ार्म-देहरादून के बीच में मेट्रो लाइन बिछाने सहित अन्य कार्यों के लिए केंद्र सरकार को प्रस्ताव भेजने की स्वीकृति देने पर प्रदेश सरकार का आभार व्यक्त किया ।हरिद्वार से ऋषिकेश एवं नेपाली फ़ार्म-देहरादून के लिए मेट्रो लाइन बिछाने के लिए 11 हजार करोड़ रुपए का प्रस्ताव प्रदेश सरकार द्वारा केंद्र सरकार को भेजा गया है l

बैठक में एमडी उत्तराखण्ड मैट्रो रेल जितेन्द्र त्यागी ने देहरादून, हरिद्वार, ऋषिकेश मैट्रोलाईट सिस्टम पर विस्तार से प्रस्तुतिकरण दिया। इस अवसर पर उन्होंने हरिद्वार से ऋषिकेश, देहरादून से नेपाली फार्म तक मैट्रो लाईट के लिए रूट प्लान स्टडी के बारे में जानकारी दी। देहरादून व हरिद्वार शहर के लिए भी बनाई गई योजना के बारे में जानकारी दी गई।इस अवसर पर आवास मंत्री मदन कौशिक, प्रमुख सचिव आनन्द वर्द्धन, सचिव नितेश झा एवं सबंधित अधिकारी उपस्थित थे।

LEAVE A REPLY